सरकार जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने वहिर्गमन किया - सरकार जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने वहिर्गमन किया DA Image
22 नवंबर, 2019|4:28|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने वहिर्गमन किया

बिहार विधान परिषद में बढ़ती महंगाई पर गुरुवार को सरकार के जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन किया। उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने देश में बढती महंगाई की समस्या पर विशेष वाद विवाद का उत्तर देते हुए कहा कि महंगाई बढ़ी है यह सच्चाई है लेकिन इस पर नियंत्रण का कार्य केन्द्र सरकार का है। उन्होंने कहा कि खाद्यान्नों और आवश्यक उत्पादों का मूल्य केन्द्र सरकार तय करती है।

मोदी ने कहा कि इसके साथ ही आयात निर्यात भी केन्द्र सरकार ही तय करती है। ऐसे में महंगाई को नियंत्रित करने में राज्य सरकार की भूमिका सीमित है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की सिफारिश पर ही राज्य सरकार ने आयातित चीनी को कर मुक्त कर दिया है।

 उप मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र के कारण ही आज महंगाई बढी है और केन्द्र के पास 474 लाख मीट्रिक टन बफर स्टॉक है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जन वितरण प्रणाली के माध्यम से गरीबों को खाद्यान्न उपलब्ध कराती है। उन्होंने कहा कि कालाबाजारी करने वालों को किसी भी कीमत पर नहीं छोडा जाएगा।

 
मोदी के उत्तर के दौरान ही मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल कांग्रेस लोक जनशक्ति पार्टी मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य अपनी अपनी सीटों के समक्ष खड़े होकर जोर जोर से बोलने लगे। इसके बाद विपक्षी सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन किया।

 इससे पूर्व दो घंटे के इस विशेष वादविवाद में भारतीय जनता पार्टी के गंगा प्रसाद संजय झा नरेन्द्र सिंह प्रतिपक्ष के नेता गुलाम गौस और मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी वासुदेव सिंह ने भाग लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकार जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने वहिर्गमन किया