हंगामे के बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड का चुनाव सम्पन्न - हंगामे के बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड का चुनाव सम्पन्न DA Image
15 नबम्बर, 2019|1:29|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हंगामे के बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड का चुनाव सम्पन्न

उत्तर प्रदेश सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड का चुनाव मंगलवार को हंगामे के बीच सम्पन्न हो गया। इसमें विधायक कोटे से इलाहाबाद के बसपा विधायक मोहम्मद मुजतबा सिद्दीकी व जेपीनगर के बसपा विधायक फरहत हसन ने 36-36 वोट पाकर अपने प्रतिद्वंदी को हराया।

उधर, मुतव्वली कोटे से सीतापुर के जुफर अहमद फारूकी ने अपने प्रतिद्वंदी को 160 वोट से पीछे छोड़ दिया वहीं गोरखपुर के अदनान फरूख शाह ने153 वोट हासिल कर अपने प्रतिद्वंदी को हराया। जबकि सोमवार को सीतापुर की सांसद कैसर जहाँ और मुजफ्फरनगर की सांसद बेगम तबस्सुम हसन को सांसद कोटे के अलावा बार कौंसिल श्रेणी में हाजी शहनवाज राना व इमरान माबूद खान को निर्विरोध चुन लिया गया था।

सुन्नी वक्फ बोर्ड में चार सदस्यों के चुनाव के लिए 215 मुतव्वली, नौ एमएलसी व 50 विधायक  वोटर में 186 मुतव्वली व विधायक कोटे से 53 वोट डाले गए। छह वोट अवैध घोषित कर दिए गए। सुबह दस बजे से ही वोटरों की लम्बी लाइन लगी रही। दोपहर 12 बजे के बाद वोट डालने को लेकर हल्का हंगामा भी शुरू हुआ। मतदान को लेकर कुछ वोटर निर्वाचन अधिकारी से भी उलङो मगर सुरक्षा अधिकारियों की सतर्कता से शांति व्यवस्था बनी रही। दोपहर दो बजे मतदान सम्पन्न करा दिया गया।

निर्वाचन अधिकारी एखलाक अहमद ने बताया कि विधायक कोटे में इलाहाबाद के मोहम्मद मुजतबा सिद्दीकी व जेपीनगर के विधायक फरहत हसन को 36-36 वोट मिले। जबकि इनके प्रतिद्वंदी पीलीभीत के रियाज अहमद 16 व सहारनपुर के इमरान मसूद 17 वोट मिले। उन्होंने बताया कि मुतव्वली कोटे में सीतापुर के जुफर अहमद फारूकी को 160, गोरखपुर के अदनान फरूख शाह 153 वोट मिले। इनके प्रतिद्वंदी में मुजफ्फरनगर के हाफिज तनजीम अहमद को 14 व अलीगढ़ से फरीद अहमद को 12 वोट ही मिले। उधर, सोमवार को शिया वक्फ बोर्ड के तीन श्रेणियों में छह उम्मीदवार निर्विरोध चुने जा चुके है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हंगामे के बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड का चुनाव सम्पन्न