DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   तस्करों ने वनकर्मी को बंधक बनाकर मारपीट की

उत्तराखंडतस्करों ने वनकर्मी को बंधक बनाकर मारपीट की

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Thu, 28 Apr 2016 08:11 PM
तस्करों ने वनकर्मी को बंधक बनाकर मारपीट की

वन तस्करों ने गश्त कर रहे वनकर्मी को बंधक बनाकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। बंधक वनकर्मी को सहयोगी वनकर्मियों ने छुड़वाने में सफलता प्राप्त कर ली। वनकर्मी की लाइसेंसी हथियार भी वनकर्मियों ने अपने कब्जे में ली।

वन क्षेत्राधिकारी राजेन्द्र मनराल ने बताया कि दक्षिणी जौलासाल रेंज के सुतलीमठ वन चौकी के कर्मचारी विशनराम, देवीदत्त तिवारी, खड़क सिंह, दान सिंह बुधवार शाम करीब आठ बजे गश्त पर थे। आरक्षित वनक्षेत्र के देवीपुर बीट के कम्पार्ट न.1 में वनकर्मियों ने आरी चलने की आवाज सुनी। वनकर्मी मौके पर गए, वहां किन्दर सिंह, गुरमीत सिंह, डब्बू, कुलवन्त निवासी गिधौर हरे साल के पेड़ को काट रहे थे। मौके पर गिल्टे भी पड़े थे। घेराबन्दी कर वनकर्मियों ने किन्दर सिंह को दबोच लिया, इसके तीन अन्य साथी जंगल की ओर भाग गये।

कुछ देर में वन तस्कर धारदार हथियारों के साथ मौके पर पहुंच गये और वनकर्मियों पर हमला कर लिया। हमलावर वनकर्मियों की लाइसेंसी बंदूक समेत हथियार समेत वनकर्मी देवीदत्त तिवारी को बंधक बनाकर ले गए। हमलावरों ने देवीदत्त तिवारी को घायल कर दिया।

देवीदत्त के सहयोगी वनकर्मियों ने विभाग के अधिकारियों को सूचना दी। नानकमत्ता थाने के एसओ वीरेन्द्र शाह, रनसाली, बाराकोली रेंज, सुरई रेंज के वनकर्मी और अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे और बंधक बनाये वनकर्मी देवीदत्त को मुक्त करा लिया। उनकी लाइसेंसी बंदूक भी बरामद हो गई है। वन वीट अधिकारी विशन राम ने आरोपी किन्दर सिंह, गुरमीत सिंह, डब्बू, कुलवन्त सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। आरोपी किन्दर सिंह को भी पुलिस के हवाले कर दिया है। घायल वनकर्मी का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खटीमा में इलाज चल रहा है।

 

 

संबंधित खबरें