DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गतिरोध साफ, जल्द ही लेंगे फैसलाः करुणा

गतिरोध साफ, जल्द ही लेंगे फैसलाः करुणा
केंद्रीय मंत्रिमंडल में द्रमुक के दो नेताओं को शामिल करने के प्रधानमंत्री के बयान का स्वागत करते हुए द्रमुक प्रमुख एम करुणानिधि ने कांग्रेस से मंत्रीपद को लेकर जारी गतिरोध के बीच सुलह के संकेत दिए हैं।
 
क रुणानिधि ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री के इस बयान से कि उनकी पार्टी से दो लोगों को मंत्रीपद दिया जाएगा, इससे स्थिति साफ हो गई है ।
 
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा द्रमुक को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने का निमंत्रण दिए जाने के जवाब में करुणानिधि ने तीन पंक्ति के एक बयान में प्रधानमंत्री का धन्यवाद करते हुए कहा कि हमारी उच्च स्तरीय कार्यसमिति जल्द ही इस बारे में फैसला करेगी।
 
उन्होंने कहा कि हम मनमोहन सिंह के पिछले मंत्रिमंडल में शामिल रहे द्रमुक के कैबिनेट मंत्रियों टीआर बालू और ए राजा के संबंध में स्पष्टीकरण के लिए उनका धन्यवाद करते हैं जिन्हें कुछ खबरिया चैनल निशाना बना रहे थे । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के इस बयान से उनके इन सम्मानित सहयोगियों के बारे में स्थिति साफ हो गई है।
   
उधर, प्रधानमंत्री ने कहा था कि संप्रग ने (द्रमुक को) जो पेशकश की है वह उचित है। वे (द्रमुक) हमारे सम्मानित सहयोगी हैं। हमेंअब भी आशा है कि वे अगले कुछ दिनों में अपने फैसले पर पुनर्विचार करेंगे।
 
कांग्रेस द्वारा की गई कथित तौर पर तीन कैबिनेट मंत्री पद और राज्यमंत्री के चार पदों की पेशकश के मुद्दे पर करुणानिधि का अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से विचार-विमर्श का सिलसिला शनिवार सुबह भी जारी रहा।
 

कैबिनेट मंत्री पद के लिए टी आर बालू, ए राजा और दयानिधि मारन पार्टी की ओर से दावेदार माने जा रहे हैं। करुणानिधि के पुत्र एम के अझागिरी और पुत्री कनीमोक्षी को स्वतंत्र प्रभार के राज्य मंत्री और सांसद एस जगतरक्षकन और एकेएस विजयन को राज्यमत्री का दावेदार माना जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एजेंसी