DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर कीमत पर करेंगे सीमाओं की हिफाजत: गिलानी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने कहा है कि उनका देश हर कीमत पर अपनी सीमाओं की रक्षा करेगा। पिछले महीने उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के हमले में 24 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे। गिलानी ने कहा कि पाकिस्तान की सम्प्रभुता और जायज हितों के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा और उसकी सीमाओं की हिफाजत की जाएगी।

नेशनल असेम्बली में 26 नवम्बर के हमले के बाद के हालात पर बयान देते हुए गिलानी ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ युद्ध में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का सहयोग करता आया है। गिलानी ने कहा कि पाकिस्तान के सहयोग की स्पष्ट सीमाएं हैं जिनमें सम्प्रभुता, समानता और परस्पर सम्मान जैसी बातें शामिल हैं, इतना ही नहीं पाकिस्तान के भीतर कोई एकतरफा कार्रवाई नहीं हो सकती और उसकी सीमाओं का अतिक्रमण नहीं किया जा सकता।

उल्लेखनीय है कि नाटो के हवाई हमले के बाद से अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में काफी तल्खी आ गई है। इस हमले के जवाब में पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में तैनात नाटो बलों को रसद की आपूर्ति करने में इस्तेमाल होने वाले अपने मार्गो को बंद कर दिया और अमेरिका से अपने शम्सी वायु ठिकाने को खाली करने के लिए कहा। इसके अलावा पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के भविष्य पर चर्चा के लिए आयोजित बॉन सम्मेलन का भी बहिष्कार किया था।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हर कीमत पर करेंगे सीमाओं की हिफाजत: गिलानी