DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नया होने का फायदा ओलंपिक में मिलेगा: अमित कुमार

भले ही उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने का अधिक अनुभव ना हो लेकिन भारतीय कुश्ती दल के सबसे युवा पहलवान अमित कुमार का मानना है कि नए होने का फायदा उसे लंदन ओलंपिक में मिल सकता है।

अमित ने कहा कि मैंने सीनियर स्तर पर थोड़े समय पहले ही खेलना शुरू किया है। कई प्रतिद्वंद्वियों के लिए मैं बिल्कुल नया हूं। वे मेरे खिलाफ रणनीति नहीं बना सकेंगे क्योंकि मेरे मुकाबलों के ज्यादा वीडियो उपलब्ध नहीं है। इसका फायदा मुझे लंदन में मिल सकता है। 55 किलोवर्ग के इस पहलवान ने अस्ताना में एशियाई क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर सभी को चौका दिया था।
 
उसने कहा कि मैंने कभी नहीं सोचा था कि इतनी जल्दी ओलंपिक खेलने का मौका मिलेगा। मैंने अपनी नजरें 2016 ओलंपिक पर लगा रखी थी लेकिन अब मैं ओलंपिक में जा रहा हूं तो इस मौके को नहीं गंवाऊंगा। उन्नीस बरस के अमित ने कहा कि ओलंपिक में एक पदक किसी की भी जिंदगी बदल सकता है और मुझे पता है कि लंदन में पदक जीतने के क्या मायने हैं।

अमित इस समय सुशील कुमार, योगेश्वर दत्त, नरसिंह यादव और गीता फोगट के साथ अमेरिका के कोलोरेडो स्प्रिंग्स में अभ्यास कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नया होने का फायदा ओलंपिक में मिलेगा: अमित कुमार