DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेस्टइंडीज क्रिकेट की भलाई चाहते हैं गेल

पिछले 14 महीनों तक राष्ट्रीय टीम से बाहर रहे विस्फोटक सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल का कहना है कि वह बोर्ड के साथ पिछले सभी गिले-शिकवे भुलाकर वेस्टइंडीज क्रिकेट की मदद करना चाहते हैं।

32 वर्षीय गेल ने रेडियो पर दिए साक्षात्कार में वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड (डब्ल्यूआईसीबी) की आलोचना की थी जिसके बाद पिछले विश्व कप से गेल को राष्ट्रीय टीम से बाहर कर दिया गया था।

गेल और बोर्ड में हाल ही में सुलह हुई है जिसके बाद गेल को इंग्लैंड के साथ खेली जा रही एक दिवसीय श्रृंखला के लिए टीम में शामिल किया गया है।

गेल ने संवाददाताओं से कहा कि सब ठीक हो गया है। हम सब यहां एक ही काम के लिए हैं और वह है वेस्टइंडीज क्रिकेट में अपना योगदान देना। मैंने बीते वर्षो में कई शतक लगाए हैं और वास्तव में मैं और अधिक योगदान देना चाहता हूं। मैं देश के लिए रन तथा कई शतक और लगाना चाहता हूं।

सबसे महत्वपूर्ण चीज यह है कि हम कुछ श्रृंखला जीतने की कोशिश करें, क्योंकि हम पर दबाव है। और तो और जब मैं नहीं खेल रहा था तब भी मुझ पर दबाव था क्योंकि मैं वेस्टइंडीज क्रिकेट का हिस्सा हूं। आप इसे किसी भी तरह देख सकते हैं।

अब मैं वापस आ गया हूं और मैं किसी भी तरह से योगदान देना चाहता हूं। उल्लेखनीय है कि गेल पिछले दशक से वेस्टइंडीज के सबसे सफल सलामी बल्लेबाज रहे हैं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वेस्टइंडीज क्रिकेट की भलाई चाहते हैं गेल