DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं सहवाग

भारतीय क्रिकेट टीम के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं। भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के साथ खेले गए पांच एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम की। इस सीरीज के पहले चार मुकाबलों में सहवाग ने कार्यवाहक कप्तान की भूमिका निभाई। सीरीज के पांचवें और अंतिम मुकाबले से सहवाग को आराम के तहत टीम से बाहर रखा गया था।

सहवाग के अनुसार, ''मैं युवा टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट हूं। विशेषकर युवा खिलाड़ियों के क्षेत्ररक्षण और गेंदबाजी से। पांचवें मुकाबले में खेलने के लिए सभी खिलाड़ी तैयार थे। मैंने सभी खिलाड़ियों से पूछा कि क्या उन्हें इस मुकाबले में आराम चाहिए इस पर सभी ने ना कहा। इसलिए मैंने इस मुकाबले में आराम करना मुनासिब समझा।

उल्लेखनीय है कि सहवाग ने सीरीज के चौथे एकदिवसीय मुकाबले में 219 रनों की पारी खेलकर इतिहास रचा था। पांचवें मुकाबले में मनोज तिवारी को मौका दिया गया था जिन्होंने 104 रन बनाए। वह रिटायर्ड हर्ट होकर पवेलियन लौटे। मनोज के बारे में सहवाग ने कहा कि मनोज को इस मुकाबले के लिए अंतिम एकादश में शामिल किया गया और उन्होंने एकदिवसीय करियर का पहला शतक लगाया। यह देखकर अच्छा लगा। हमने मौजूदा सत्र का समापन अच्छे तरीके से किया। इससे पहले, हमने इंग्लैंड को एकदिवसीय सीरीज में 5-0 से हराया था।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं सहवाग