अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

MPs की ट्रंप से अपीलः कीस्टोन तेल पाइपलाइन में भारतीय इस्पात बैन हो

MPs की ट्रंप से अपीलः कीस्टोन तेल पाइपलाइन में भारतीय इस्पात बैन हो

अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के कुछ प्रभावशाली सांसदों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कनाडा की कंपनी को अरबों डालर की विवादास्पद कीस्टोन तेल पाइपलाइन में विदेश में विशेषकर भारत और इटली में बने इस्पात का उपयोग नहीं करने देने का अनुरोध किया है। 

कुछ सीनेटरों ने संयुक्त रूप से ट्रंप को पत्र लिखकर यह अनुरोध किया है। पत्र में कहा गया है, हम यह जानकार निराश हैं कि कीस्टोन एक्सल पाइपलाइन में शत प्रतिशत अमेरिका में निर्मित स्टील के उपयोग की जरूरत नहीं होगी।

पत्र की प्रति कल मीडिया को जारी की गयी।

इसमें कहा गया है, हम इस बात को लेकर चिंतित हैं कि कनाडाई कंपनी को भारत और इटली जैसे देशों में विनिर्मित इस्पात के उपयोग की अनुमति देकर आप एक मिसाल कायम कर रहे हैं जिससे हमारे देश में रोजगार प्रभावित होंगे। इन देशों का अमेरिकी बाजार में अनुचित कीमतों पर अमेरिका में स्टील उत्पादों के डंपिंग का इतिहास है।

क्रिस वान होलेन और टैमी डकवर्थ की अगुवाई में सीनेटरों ने ट्रंप से पाइपलाइन परियोजना में अमेरिका में विनिर्मित उत्पादों और उपकरणों का उपयोग सुनश्चित कर रोजगार संरक्षित करने का अनुरोध किया।

पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले अन्य सांसद कोरी ए बूकर, थॉमस आर कार्पर, अल फ्रैंकेन, क्रिस्टोफर एस मफीर्, डेबी स्टैबनाउ, जो डोनेली क्लेयर मैककेस्किल, राबर्ट मेनेनडेज तथा गैरी सी पीटर्स हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:us senators urges to trump do not use steel from india and italy in keystone pipeline