DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में मजबूत नहीं है कांग्रेस की स्थिति: चुनावी रुक्षान

विधान सभा चुनाव के संपन्न होने के बाद विश्लेषण और रुक्षानों में यह बात सामने आ रही है कि कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी की ओर से चुनावी मुहिम के दौरान एड़ी-चोटी का जोर लगा देने के बावजूद कांग्रेस उत्तर प्रदेश में मजबूत स्थिति में नहीं नजर आ रही है। उत्तर प्रदेश चुनाव में कांग्रेस पार्टी के बेहतरीन प्रदर्शन और चौंकाने वाले नतीजे आने की बातें अब धीरे-धीरे बंद हो गयी हैं।

पार्टी के कई नेताओं की ओर से दी जा रही वास्तविक स्थिति की जानकारियों के मुताबिक, पार्टी अपने बलबूते राज्य की 403 सीटों में से 60-65 सीटें पाने में कामयाब हो सकती है और इसके सहयोगी राष्ट्रीय लोक दल को 15 सीटें मिलने की संभावना है। एक केंद्रीय मंत्री ने तो यहां तक कहा कि कांग्रेस यदि 45 सीटें जीतने में भी कामयाब रहती है तो इसे अच्छा प्रदर्शन माना जाएगा जबकि पार्टी को यदि 60 से ज्यादा सीटें मिल जाती हैं तो इसे बेहतरीन प्रदर्शन माना जाएगा। मंत्री ने इसके पीछे तर्क यह दिया कि पिछले तीन विधान सभा चुनावों में कांग्रेस को कभी भी 30 से ज्यादा सीटें नहीं मिली हैं और अब तक वह 20-25 से आगे नहीं बढ़ी है । इसमें 1996 का विधान सभा चुनाव भी शामिल है जब कांग्रेस पार्टी ने बसपा के साथ गठबंधन कर 100 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी में मजबूत नहीं है कांग्रेस की स्थिति: चुनावी रुक्षान