DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती के नाम एक और कीर्तिमान

दोबारा वापसी होगी या नहीं यह तो वक्त ही बताएगा,  मगर मायावती ने उत्तर प्रदेश में अपनी चौथी पारी में किसी भी विधानसभा के पूरे कार्यकाल तक मुख्यमंत्री के पद पर आरूढ़ रहकर एक ऐसा कीर्तिमान कायम कर दिया है जो निकट भविष्य में अटूट सा लगता है।
   
हालांकि लगातार पांच साल अथवा इससे अधिक समय तक मुख्यमंत्री के पद पर बने रहने का कीर्तिमान वर्ष 1954 में मुख्यमंत्री बने सम्पूर्णानंद के नाम है। जो दिसम्बर 54 से लेकर दिसम्बर 1960 तक लगातार छह साल मुख्यमंत्री रहे, मगर उनका कार्यकाल दूसरी और तीसरी-दो विधानसभाओं के कार्यकाल में बंटा हुआ था।
   
मायावती के नाम एक और कीर्तिमान है और वह यह, कि प्रदेश के इतिहास में चार बार मुख्यमंत्री के पद पर पहुंचने वाली वह पहली नेता हैं। मायावती पहली बार जून 1995 में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन तोड़ कर भाजपा एवं अन्य दलों के बाहरी समर्थन से मुख्यमंत्री बनीं थीं और तब उनका कार्यकाल महज चार महीने का था। वह दूसरी बार 1997 और तीसरी बार 2002 में मुख्यमंत्री बनीं और तब उनकी पार्टी बसपा का भाजपा के साथ गठबंधन था।
   
मायावती के बाद सबसे ज्यादा तीन-तीन बार राज्य का मुख्यमंत्री बनने का अवसर चन्द्रभान गुप्त 1962, 1967 और 1969, नारायणदत्त तिवारी-1976, 1984 और 1988 और मुलायम सिंह यादव-1989, 1993 और 2003 को मिला, मगर इनमें से कोई भी किसी भी विधानसभा के पूरे कार्यकाल तक मुख्यमंत्री नहीं रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती के नाम एक और कीर्तिमान