DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'मिलन टॉकीज' तिग्मांशु की पहली लव स्टोरी

फिल्म 'पान सिंह तोमर' से व्यवसायिक सफलता और आलोचकों की प्रशंसा पाने वाले निर्देशक तिग्मांशु धूलिया अब अपनी नई फिल्म 'मिलन टॉकीज' में एक छोटे शहर की प्रेम कहानी दिखाएंगे। तिग्मांशु ने कहा कि यह फिल्म उनकी पहली विशुद्ध प्रेम कहानी पर आधारित फिल्म है। इस फिल्म के कलाकार अभी तक नहीं चुने गए हैं।
   
तिग्मांशु ने कहा कि मैं 'मिलन टॉकीज' का निर्देशन करने की योजना बना रहा हूं। मोबाइल फोन और दूसरे संचार के साधनों से संवाद-संचार आज बहुत आसान हो गया है लेकिन आज भी छोटे शहरों में प्रेम करना खासा मुश्किल काम है। इस कहानी का सार यही होगा।
   
उन्होंने कहा कि मैं छोटे शहरों की कहानियां तब तक दिखाता रहूंगा जब तक कि वह छोटे रहेंगे। मुंबई जैसे बड़े शहर में कहां प्रेम में उलझन और संघर्ष होता है छोटे शहरों में रहने वालों के लिए प्रेम आज भी मुश्किल चीज है।
   
तिग्मांशु की फिल्मों में सामाजिक और राजनीतिक तत्वों पर जोर रहता है। इसकी वजह उनका खुद का छोटे शहर से होना है। तिग्मांशु ने कहा कि वह इलाहाबाद के रहने वाले हैं जहां लोग राजनीतिक रूप से ज्यादा जागरूक हैं। वह समाज से जुड़े पक्षों पर फिल्म बनाना चाहते हैं क्योंकि वह चाहते हैं कि लोग उनकी फिल्मों की कहानी से खुद को जोड़ सके।

फिल्म 'पान सिंह तोमर' में तिग्मांशु ने एक ऐसे इंसान की कहानी दिखाई है जो एक पुरस्कार विजेता खिलाड़ी से एक कुख्यात डकैत बन जाता है। इस फिल्म के बाद वह एक बार फिर इरफान खान के साथ फिल्म 'साहब बीवी और गैंगस्टर' के सीक्वेल में काम करने की योजना बना रहे हैं।
   
तिग्मांशु इससे पहले भी कई फिल्मों में इरफान को निर्देशित कर चुके हैं। इनमें हासिल और चरस जैसी फिल्में शामिल हैं। तिग्मांशु ने कहा कि इरफान बहुत अच्छे अभिनेता हैं। हमारा रिश्ता बहुत खास हैं। हम 1986 से साथ काम कर रहे हैं। अगर मेरी चले तो मैं अपनी हर फिल्म में उन्हें ले लूं।
   
तिग्मांशु ने अभिनेता बनने के लिए राष्ट्रीय नाट्य संस्थान (एनएसडी) में प्रशिक्षण लिया था लेकिन उन्होंने बाद में महसूस किया कि वह अभिनय के लिए नहीं बने हैं। तिग्मांशु ने कहा कि मैं बहुत ही बुरा अभिनेता था। मुझे याद है मैंने एक बार एनएसडी के एक नाटक में मुख्य भूमिका निभायी थी। इस नाटक पर बहुत पैसे खर्च हुए थे लेकिन यह फ्लॉप रहा। मैं बहुत निराश हुआ क्योंकि मुझे फिल्मों से बहुत प्यार था। जब मैं पीछे देखता हूं तो लगता है कि यह सही फैसला था कि मैंने अभिनेता बनने की कोशिश नहीं की।
   
हालांकि तिग्मांशु एक बार फिर अभिनय करते नजर आएंगे। वह अनुराग कश्यप की फिल्म 'गैंग्स ऑफ वसेपुर' में विलेन की भूमिका में हैं। उनका कहना है कि यह फिल्म वह अनुराग कश्यप से अपनी दोस्ती की वजह से कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अनुराग मेरा दोस्त है, मुझ पर कोई दबाव नहीं था। इसलिए मेरे लिए यह आसान बन गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'मिलन टॉकीज' तिग्मांशु की पहली लव स्टोरी