DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुपर 30 के आनंद दुनिया के शीर्ष 20 शिक्षकों में

भारतीय प्रौद्यागिकी संस्थान (आईआईटी) की प्रवेश परीक्षा में निर्धन छात्रों को नि:शुल्क शिक्षा देकर सफलता दिलाने के लिए चर्चित संस्थान सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार को लंदन की प्रतिष्ठित पत्रिका 'मोनोकल' ने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ 20 शिक्षकों की सूची में शामिल किया है, जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन का सूत्रपात किया है।

'क्लास एक्ट ग्लोब-टॉप 20 टीचर्स' के नाम से जारी इस सूची में आनंद भारत से अकेले हैं। आनंद के अलावा इस सूची में नीलटूरोक, पाइरी केलर, मुनीर फेशह, सराह एलिजाबेथ आईपिल जैसी हस्तियां शामिल हैं।  पत्रिका के अनुसार आनंद ऐसे शिक्षक हैं जिनकी लोकप्रियता बॉलीवुड स्टार से कम नहीं है। अभी हाल में ही एशिया में सबसे ज्यादा बिकने वाली एजुकेशन मैगजीन 'एशिया एजुकेटर' ने अपने ताजे अंक में आनंद के संघर्षपूर्ण जीवन पर विशेष आलेख प्रकाशित किया था। इस आलेख में पत्रिका ने आनंद को 'इनक्रेडेबल इंडियन' की संज्ञा दी है। 

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व पिछले वर्ष 'टाइम मैगजिन' ने सुपर 30 को 'द बेस्ट ऑफ एशिया' बताया, वहीं 'न्यूज वीक' मैगजीन ने इसे विश्व के चार सर्वोत्कृष्ट प्रयोगधर्मी स्कूलों की सूची में शामिल किया था। यूरोप के प्रतिष्ठित पत्रिका 'फोकस' ने भी प्रशंसा की है। डिस्कवरी चैनल, एऩ एच़ क़े जापान, अल जजीरा और फ्रेंच 24 जैसे प्रतिष्ठित चैनल आनंद पर वृतचित्र बना चुके हैं।

इस प्रतिष्ठा और उपलब्धि से खुश आनंद कहते हैं कि बच्चों की मेहनत का ही यह परिणाम है। उन्होंने कहा कि वह शिक्षा के क्षेत्र में प्रयोग करते हैं और जब लोग इसे सराहते हैं तो उन्हें भी खुशी होती है। गौरतलब है कि सुपर 30 की स्थापना पटना में 10 वर्ष पूर्व की गई थी। अब तक 236 छात्रों को सुपर 30 के माध्यम से आईआईटी की प्रवेश परीक्षा में सफलता मिली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुपर 30 के आनंद दुनिया के शीर्ष 20 शिक्षकों में