DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अज्ञात कारणों से दुर्घटनाग्रस्त हुआ सुखोई-30 एमकेआई

वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल एन ए के ब्राउन ने शुक्रवार को कहा कि मंगलवार को पुणे के पास सुखोई-30 एमकेआई विमान एक अज्ञात खामी के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसका पायलट को कोई संकेत नहीं मिला। 120 विमानों के बेड़े की उड़ानें सोमवार से फिर से शुरू कर दी जाएंगी जिन्हें दुर्घटना के बाद रोक दिया गया था।

वायुसेना प्रमुख ने कहा कि फ्लाई-बाई वायर प्रणाली में समस्या थी। यह एक नयी चीज सामने आई है। पायलट को कोई संकेत नहीं मिला। कॉकपिट में कोई संकेत नहीं मिला और विमान नियंत्रण से बाहर हो गया।

उन्होंने कहा कि पायलट ने विमान को नियंत्रित करने के लिए 15-20 मिनट तक हरसंभव प्रयास किया और बाद में अपने शस्त्र प्रणाली संचालक (डब्ल्यूएसओ) के साथ बाहर निकल आये। विंग कमांडर जी एस सोहल विमान के पायलट थे वहीं फ्लाइट लेफ्टिनेंट यू नौटियाल उनके डब्ल्यूएसओ थे।

राजस्थान में वर्ष 2009 में दुर्घटनाग्रस्त हुए पहले सुखोई-30 एमकेआई विमान के भी फ्लाई-बाई वायर प्रणाली में दिक्कतें आई थीं। ब्राउन ने कहा कि इस लड़ाकू विमान के मूल निर्माता देश रूस से एक विशेषज्ञ दल आज भारत पहुंचा और इस मुद्दे पर ध्यान देगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अज्ञात कारणों से दुर्घटनाग्रस्त हुआ सुखोई-30 एमकेआई