DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ महोत्सव की रौनक बढ़ी समापन का वक्त करीब देख बड़ी

िहन्दुस्तान संवाद लखनऊजैसे-जैसे महोत्सव का समापन नजदीक आ रहा है लोगों का उत्साह बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार शाम की भीड़ देखकर कारोबािरयों के चेहरे िखल उठे। यहाँ खुले मैदान में लोग बहू-बेिटयों और बच्चों के साथ िदल खोलकर घूम रहे हैं। लक्ष्मण मेला स्थल पर पहले आयोिजत होने वाले महोत्सव में शहर के दिक्षणी छोर के लोगों की भागीदारी नाममात्र की होती थी। दूर होने व साधनों की कमी की वजह से यहाँ के लोग महोत्सव के महाकुम्भ में डुबकी लगाने से विंचत रह जाते थे। अब शारदानगर, पिरकल्पनगर, सरोजनीनगर, अमौसी, ट्रांसपोर्ट नगर, कृष्णानगर, भोलाखेड़ा, एलडीए कॉलोनी, आिशयाना, आलमबाग, साउथ िसटी, पीजीआई, मोहनलालगंज, तेलीबाग, बंग्लाबाजार, कैंट, चारबाग, ऐशबाग, मवैया, राजाजीपुरम, सदर, तालकटोरा आिद इलाकों के लोग महोत्सव का पूरा आनन्द उठा रहे हैं। महोत्सव में आयोिजत कृिष मेले का इसमें िवशेष योगदान है। एक ओर जहाँ िदन में महोत्सव का सांस्कृितक पंडाल दर्शक िबन खाली रहता है। वहीं, दूसरी ओर कृिष िवभाग की ओर से लगाए गए पंडाल में आसपास के क्षेत्रों के किसानों का जमावड़ा लगा रहता है। .................कारपोरेट जगत में िदखा मंदी का असरिहन्दुस्तान संवाद लखनऊमहोत्सव में कारपोरेट जगत के स्टाल पर मंदी का असर साफ िदखा। कम्पिनयों के प्रितिनिधयों का कहना है कि इस बार िसर्फ दर्शक और घूमने के शौकीन लोगों ही ज्यादा िदखे। महोत्सव में एसबीआई, बैंक ऑफ बड़ाैदा, एचडीएफसी फाइनेन्स, कॉरपोरेट बैंक, िरलायंस, वोडाफोन, भारती एयरटेल, ऊषा, बजाज, एलजी समेत ब्रांडेड फर्नीचर से लेकर किचनयूज तक की ब्रांडेड कम्पिनयों के स्टाल लगे हैं। सभी स्टालों पर भीड़ तो नजर आ रही है मगर खरीदारी करने वाले कम ही नजर आ रहे हैं। बजाज कम्पनी के मुकेश ने बताया इससे अच्छा िपछले वर्ष का महोत्सव रहा,जिंसमें लोगों ने खरीदारी भी की। अब तक कुल 54 हजार रुपए का कारोबार हो सका है। कॉरपोरेट बैंक की िवपणन प्रबन्धक चारू िसंह का कहना है कि छठे वेतनमान के बावजूद भी महँगाई के कारण लोग खरीदारी कम रहे हैं। लोन के के िलए जरूर लोग जानकारीह कर रहे हैं। िशल्पी जाकिर कहते हैं कि 25 हजार लगाकर स्टाल लगाया और खर्चे अलग। अब तक तो मात्र 40 हजार का कारोबार हुआ। ऐसा रहा तो अगली बार से महोत्सव नहीं आएँगे। ...................िवशेषअब लीिजए मल्टी फंक्शनल रेग्यूलेटरएचपी जनवरी में करेगा लॉन्चमहोत्सव में लोगों को दी इसकी जानकारीये लीकेज या किसी दुर्घटना से बचाएगासुनील िमश्रलखनऊ। एचपीसीएल कम्पनी नया मल्टी फंक्शनल रेग्यूलेटर जनवरी में लॉन्च करेगा । जो िसर्फ गैस की मात्रा ही नहीं बताया बिल्क लीकेज या किसी अन्य पिरिस्थित में गैस का प्रवाह बन्द करके दुर्घटना से बचाएगा। कम्पनी इसके िलए अभी जागरूकता अिभयान चला रही है। कम्पनी के कर्मचारी मनीष अरोड़ा ने बताया कि गैस के िरसाव से होने रही दुघर्टनाओं से लोगों को बचाने के िलए िवशेष प्रकार का रेग्यूलेटर बनाया गया है। इसमें स्पेशल चाइल्ड लॉक लगा हुआ हैजिंससे बच्चों आसानी से नहीं खोल सकते हैं। एक इंडीकेटर होता है जो गैस के लेवल के बारे में जानकारी देता है। मोटरसाइकिल के फ्यूल टी की तरह िरजर्व भी दर्शाता हैजिंससे समय रहते गैस भरवाई जा सकती है। इसके अलावा सेट टॉप िडवाइस होता है। यिद गैस पाइप में कहीं से लीकेज है या और कोई िदक्कत है तो इसमें लगा सेंसर गैस की सप्लाई बन्द कर देता है। इसके अलावा यिद 24 घंटे तक गैस रेग्यूलेटर का उपयोग नहीं किया तो भी ये आटोमेिटक लॉक करके गैस की आपूिर्त बंद कर देता है। ...........................बुजुर्गो को आधे दामों में िमल रहे ऊनी वस्त्रपल्लव शर्मा लखनऊ अगर आप बुजुर्ग हैं और घुटनों के दर्द से परेशान रहते हैं। दवाई भी कोई असर नहीं कर रही है, तो लखनऊ महोत्सव मेला स्थल पर ग्रामीण उत्थान सेवा सिमित के सी-16 स्टाल पर आपके दर्द का िनवारण हो सकता है। यहाँ बुजुर्गो को आधे रेट पर सामान उपलब्ध हो रहा है।यहाँ सिचन भारत ितवारी बुजुर्गो के घुटनों के दर्द को दूर करने के िलए आधे दामों में वूलन नी कैप लेकर आए हैं। इनका दावा है कि इनका नी कैप घुटनों के दर्द का िनवारक है। बाजार में सौ रुपए में िमलने वाला वूलन नी कैप यहाँ मात्र पचास रुपए में िमल रहा है। गरम पजामी 150 रुपए में, राजस्थानी लेदर शूज और बैग 60 से 100 रुपए तक में है। इनकी संस्था के जयपुर, िदल्ली, कन्नौज और लखनऊ के स्टाल लगे हैं। इनकी खािसयत यह है कि इनके यहाँ सब हाथ से बनाई गई सामग्री है। इसके अलावा इनके पास लद्दाख के मशहूर ऊन के नी कैप भी हैं। बच्चों के आइटम भी हैं। दो िदन बढ़ सकता है महोत्सव मेलाकार्यालय संवाददाता लखनऊलखनऊ महोत्सव मेला दो िदन और बढ़ सकता है। महोत्सव मेला सिमित के कुछ अिधकािरयों ने इस बात का जानकारी दी। शुक्रवार कोजिंलािधकारी अिमत घोष ने पाँच नवम्बर को होने वाले पुरस्कार िवतरण समारोह और मुख्य अितिथ के रूप में राज्यपाल व अन्य िविशष्ट अितिथयों के महोत्सव में रहने पर व्यवस्थाओं का जायजा िलया। उन्होंने महोत्सव सिमित और प्रशासन के अिधकािरयों के साथ मेला स्थल पर बैठक भी की। महोत्सव के कुछ अिधकािरयों ने बताया कि मेले में भीड़ की बढ़ती संख्या को देखकर महोत्सव मेले को दो िदन बढ़ाया जा सकता है। लेकिन महोत्सव में हो रहे वाले सांस्कृितक कार्यक्रम शिनवार को समाप्त हो जाएँगे। वह आगे नहीं बढ़ाए गए हैं।---------------------------यहाँ िन:संतान को िमल सकता है संतान का सुखलखनऊ।जिंन िन:संतान दम्पितयों को किन्ही कारणों से संतान का सुख नहीं िमल पा रहा है। उनके िलए भी महोत्सव में घूमने आने के साथ संतान को गोद लेने की व्यवस्था है। यहाँ राजकीय बाल गृह िशशु की ओर से कानूनी रूप से संतान को गोद लेने की जानकारी स्टाल नम्बर 236 पर दी जा रही है। स्टाल पर संतान को गोद लेने के िलए कानूनी कार्यवाही के बारे में बताया जा रहा है कि इच्छुक दम्पित अपना स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, मिहला िचकित्सक द्वारा इलाज कराया सीएमओ का प्रमाण पत्र, चिरत्र प्रमाण पत्र, आयु और आय प्रमाण पत्र, दो फोटो और दस रुपए का शपथ पत्र देकर बच्चों को गोद ले सकते हैं। कासं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लखनऊ महोत्सव की रौनक बढ़ी समापन का वक्त करीब देख बड़ी