DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार से विदेश भी जाते हैं हथियार और विस्फोटक

बिहार से विस्फोटकों के कंसाइनमेंट नक्सल प्रभावित दूसरे राज्यों में ही नहीं विदेश भी भेजे जाते हैं। बिहार और नेपाल के माओवादियों के बीच लंबे समय से हथियारों और विस्फोटकों की डील होती रही है। बिहार से कई बार विस्फोटकों की बड़ी खेप नेपाल भेजी गयी है। इसी साल जून में बिहारशरीफ में विस्फोटकों का बड़ा जखीरा पुलिस ने पकड़ा था जिसे नेपाल भेजा रहा था। इस दौरान ही एक बड़ा खुलासा हुआ कि नेपाल के लिए भेजी जानी वाली यह पांचवी खेप थी। इस मामले में प्रवेश मिश्र और एक नेपाली माओवादी दिवाकर जी को गिरफ्तार भी किया गया था। प्रवेश जेल में बंद भाकपा(माओवादी) के पोलित ब्यूरो के सदस्य प्रमोद मिश्र का छोटा भाई है। नेपाल के रास्ते हथियार बिहार के माओवादियों तक पहुंचते रहे हैं। यहां तक की चीन निर्मित सैन्य संचार उपकरण भी बिहारी माओवादियों के हाथ लग चुके हैं। इस नेटवर्क को तोड़ने के लिए राज्य पुलिस और सशस्त्र सीमा बल(एसएसबी) से सहयोग ले रही है। केन्द्रीय खुफिया एजेंसियां और राज्य की पुलिस काफी समय से माओवादियों के इस नेटवर्क को पकड़ने में लगी है। पटना में बीते दो दिनों में भारी मात्रा में विस्फोटकों की बरामदगी इसी ऑपरेशन का हिस्सा हैं। वैसे माओवादियों के कंसाइनमेंट को पकड़ना आसान नहीं है। गोपनीयता बरकरार रखने के लिए माओवादी कंसाइनमेंट से लदे ट्रक को कई राज्यों में घुमाते हैं ताकि खुफिया एजेंसियों और पुलिस को भरमाया जा सके। पटना में शनिवार की रात कंकड़बाग इलाके से जब्त विस्फोटक को लाने-ले जाने के लिए इसी तरह की रणनीति पर माओवादी काम कर रहे थे। छोटे ट्रक में करीब 300 किलो विस्फोटक लदे थे। ट्रक गोपनीय तरीके से एक जगह खड़ा कर दिया गया था। इसके ठीक दूसरे ही दिन बहादुरपुर इलाके से करीब 500 किलो विस्फोटक और सात हजार गोलियां जब्त की गयीं। थोड़ा पीछे चलें तो करीब साल भर पहले विस्फोटकों के ऐसे ही एक बड़े कंसाइनमेंट को नवादा में पकड़ा था। इस मामले में सात लोगों की गिरफ्तारी भी हुई थी। पूछताछ में यह खुलासा हुआ कि विस्फोटकों को पहले झारखण्ड से मध्यप्रदेश के गुना ले जाया गया और उसके बाद बिहार लाया गया था। विस्फोटकों को ट्रक से लाया गया था और रास्ते में कई जगह ड्राइवर भी बदले गए। सूत्रों के अनुसार जब्त विस्फोटकों की जांच में कई बार यह खुलासा भी हुआ है कि इन्हें गोमियो एक्सप्लोसिव फैक्ट्री में तैयार किया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार से विदेश भी जाते हैं हथियार और विस्फोटक