class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समस्तीपुर के कई गांवों में फिर पानी भरा

समस्तीपुर। नेपाल में हो रही भारी बारिश के कारण कोसी, कमला, करेह और जीवठ नदियों में आए उफान से बिहार में समस्तीपुर जिले के सिंहिया और विथान प्रखंडों के करीब 30 गांवों में बाढम् का पानी फिर से भर गया है। आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को यहां बताया कि नेपाल के जलग्रहरण क्षेत्रों में करीब एक सप्ताह से जारी बारिश के कारण कोसी, कमला और करेह समेत कई अन्य प्रमुख नदियों के जलस्तर में वृद्धि हो रही है जिससे जिले के सिंहिया प्रखंड के केवटहर, भरैया, करही, सोनसा, बंगरहट्टा समेत 20 गांवों में बाढम् का पानी एक बार फिर से प्रवेश कर गया है। जिले के सिंहिया प्रखंड मुख्यालय परिसर में भी पानी के प्रवेश करने से वहां आने-जाने वाले लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पडम् रहा है। वहीं, जिले के विथान प्रखंड के बेलसंडी, नरपा, सलहा चंदन और सलहा बुर्जुग पंचायतों के लगभग दस गांव बाढम् की चपेट में फिर से आ गए हैं। इन क्षेत्रों में बाढम् के कारण आम लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सूत्रों ने बताया कि बाढम् के कारण इन गांवों का प्रखंड मुख्यालय से सडम्क संपर्क टूट हो गया है। इस बीच जिले के रोसडम अनुमंडल के सिंहिया और विथान प्रखंडों में बाढम् के मद्देनजर हाई एलर्ट घोषित कर चौकसी बरती जा रही है। उधर करेह नदी के जलस्तर में उफान के कारण जिले के सिंहिया प्रखंड स्थित वाटार वेज तटबंध पर पानी का दबाव बढम् गया है। विभाग के अभियंताओं द्वारा तटबंधों की सुरक्षा के लिए विशेष चौकसी बरती जा रही है। (वार्ता)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: समस्तीपुर के कई गांवों में फिर पानी भरा