DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांव वाले झुंड बना कर घर से बाहर निकलें: कमिश्नर

मुरादाबाद। वरिष्ठ संवाददाता

मंडलायुक्त शवशिंकर सिंह ने चंगेरी में बाघ के हमले के बाद मौके पर पहुंच कर पीड़ितों से मुलाकात की। गांव वालों को सलाह दी है कि वह झुंड बना कर निकलें। ईख के खेतों में कतई नहीं जाएं। अगर कहीं कोई सूचना मिले तो अफसरों को दें। टीमें लगा दी गई हैं। वहीं रेपिड रेस्पांस टीम को लगा दिया गया है।

मंडलायुक्त ने वन विभाग के अफसरों से कहा कि गांव वालों की दहशत दूर होनी चाहिए। ग्राम जटपुरा में दो दिन पुराने पैरों के निशान मिले हैं। वहीं यह भी बताया गया कि धनुपुरा, चौधरपुर, अमरोहा में एनएचआई 24 से चंगेरी, मतलबपुर, चेतरामपुर, खलीकपुर होते हुए बाघ अकबरपुर गांव की ओर बढ़ा। रामगंगा नदी की ओर इसके ताजे निशान मिले हैं। संभावना जताई जा रही है कि रामगंगा के किनारे होकर बाघ जिम कार्बेट जा सकता है। अमान गढ़ जंगल में भी मुड़ सकता है।

मंडलायुक्त ने कहा कि कांठ ठाकुरद्वारा, स्योहारा, अफजलपुर व जसपुर आदि इलाकों में नागरिकों को एलर्ट किया गया है। दुधवा से बुलाई गईं रामकली व गंगाकली मुरादाबाद। हथनी रामकली व गंगाकली को दुधवापार्क से बुला ली गई हैं। इनको काम पर लगा दिया गया है। इन्हीं को जंगल में घुमा कर जायजा लिया जाएगा। वन अफसरों ने हथनियों की मदद से काम करना शुरू कर दिया है। बताया गया है कि इन हथनियों से वन विभाग को काफी मदद मिलेगी।

रेपिड रेस्पांस टीम का गठन रेपिड रेस्पांस टीम का गठन इम्तियाज अहमद सिद्दीकी की लीडरशिप में किया जा चुका है। आफाब वली खान, वजीर हसनन दरोगा माला रेंज, पीलीभीत वन प्रभाग व दो स्थानीय वन दरोगा लगाए गए हैं। वहीं डा. राजीव सिंह कार्बेट टाइगर रिजर्व रामनगर, नैनीताल को इस टाइगर को ट्रैकूलाइजेशन करने के लिए अधिकृत किया गया है। जीएस खुशारिया प्रभागीय वन अधिकारी संभल वन प्रभाग इस टीम में काम करेंगे। ग्राम मिठनपुर मौजा में चार पिंजड़े लगाए गए हैं।

जो टाइगर के मूवमेंट के अनुसार घूमेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गांव वाले झुंड बना कर घर से बाहर निकलें: कमिश्नर