DA Image
31 मार्च, 2020|3:55|IST

अगली स्टोरी

नौसैनिकों की वापसी न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान: PM

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दो भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोपी इतालवी नौसैनिकों को वापस भारत भेजने के इटली सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए शुक्रवार को कहा कि उनकी वापसी सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के अनुसार हो रही है और यह भारतीय न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान है।

मनमोहन सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि हम खुश हैं। मैं इतालवी नौसैनिकों की वापसी का स्वागत करता हूं। वे सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के अनुसार वापस आ रहे हैं और यह भारतीय न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान है।

इससे पहले विदेश मंत्रालय ने घोषणा की थी कि इटली की सरकार ने भारत को सूचित किया है कि आरोपी नौसैनिक यहां लौटेंगे।

सर्वोच्च न्यायालय ने नौसैनिकों को इटली के आम चुनाव में मतदान के लिए स्वदेश जाने की अनुमति दी थी। तब इटली के राजदूत डेनियल मेंसिनी ने सर्वोच्च न्यायालय से वादा किया था कि देश के आम चुनाव में मतदान के बाद वे 22 मार्च तक भारत लौट आएंगे। लेकिन 11 मार्च को इटली ने अपने नौसैनिकों को यहां भेजने से मना कर दिया, जिसके बाद दोनों देशों के बीच कूटनीतिक तनाव पैदा हो गया था। सर्वोच्च न्यायालय ने इटली के राजदूत के देश छोड़ने पर भी पाबंदी लगा दी थी।

इटली के मालवाहक जहाज एनरिका लेक्सी के सुरक्षाकर्मियों पर 15 फरवरी, 2012 को केरल तट से लगे अरब सागर में भारतीय मछुआरों की नौका गोलीबारी करने का आरोप है। इस घटना में दो मछुआरों की मौत हो गई थी। इस मामले में उनके खिलाफ यहां मुकदमा चल रहा है।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:नौसैनिकों की वापसी न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान: PM