DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नियोजित शिक्षकों को नियमित वेतनमान पर विचार नहीं: शाही

बिहार सरकार ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि नियोजित शिक्षकों को नियमित वेतनमान देने पर किसी भी तरह का विचार नहीं किया जाएगा।

राज्य विधान परिषद में प्रश्नोकाल के समाप्त होते ही राष्ट्रीय जनता दल के प्रो0 नवल किशोर यादव और तनवीर हसन ने राज्य के नियोजित शिक्षकों के हड.ताल पर रहने का मामला उठाया और कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात रखने और हड़ताल करने का अधिकार है। सरकार को हड़ताली शिक्षकों से बातचीत कर रास्ता निकालना चाहिए।

इस पर शिक्षा मंत्री पी.के.शाही ने कहा कि यह बात सही है कि लोकतंत्र में सभी को बात रखने का अधिकार है लेकिन मांग रखने की भी कोई सीमा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई चॉंद पर भेजने के लिए धरने पर बैठता है तो सरकार क्या करेगी। नियोजित शिक्षकों के संबंध में कई दौर की विभिन्न संघों के साथ बातचीत हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नियोजित शिक्षकों को नियमित वेतनमान पर विचार नहीं: शाही