DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्या के प्रयास के तीन आरोपियों को कैद

उत्तर प्रदेश में जौनपुर जिले की एक अदालत ने हत्या के प्रयास के मामले में आरोपी दो सगे भाइयों समेत तीन लोगों को सात-सात साल के सख्त कैद तथा जुर्माने की सजा सुनाई है।

अभियोजन पक्ष के अनुसार 20 दिसम्बर 2009 को मीरगंज थाना क्षेत्र के असवां गांव में राममूर्ति तिवारी अपने बेटे अनुरेश के साथ कहीं जा रहा था। रास्ते में चंद्रमणि, उसके भाई प्रकाश चंद्र तथा मोहन नामक व्यक्तियों ने मुकदमे की रंजिश को लेकर उनसे झगड़ा किया।

इसी बीच उन चारों अभियुक्तों ने तिवारी तथा उसके बेटे अनुरेश पर फावड़े तथा कुदाल से हमला कर दिया, जिसमें अनुरेश गम्भीर रूप से घायल हो गया। इस मामले में चंद्रमणि, प्रकाश चंद्र, लालमणि तथा मोहन के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कराया गया था।

अपर सत्र न्यायाधीश वी के पाण्डेय ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद चारों आरोपियों को दोषी मानते हुए सात-सात साल की सख्त कैद तथा आठ-आठ हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हत्या के प्रयास के तीन आरोपियों को कैद