DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उजाड़ने से पहले पुनर्वास की व्यवस्था हो

चक्रधरपुर। संवाददाता। आदित्यपुर में रेलवे की जमीन पर अतिक्रमण कर वर्षो से रह रहे लोग नोटिस मिलते ही गुरुवार को चक्रधरपुर रेल मंडल के इंजीनियरिंग विभाग के कार्यालय पहुंचे और रेल अधिकारियों को मांग पत्र सौंपा। सैकड़ो लोगों द्वारा हस्ताक्षरित मांग पत्र में लिखा है कि तीसरी लाइन बिछाने के नाम पर गरीबों का आशियाना तोड़ने की रेलवे योजना है। लोग तीसरी लाइन बिछाने में बाधक नहीं बनना चाहते हैं, लेकिन रेलवे को जितनी जमीन की जरूरत है, उतने ही लोगों का आशियाना तोड़े और जिन लोगों का आशियाना तोड़ा जाता है उनका पुनर्वास किया जाये।

अगर रेलवे मनमाने ढंग से घर तोड़ती है तो इसके खिलाफ जोरदार आंदोलन किया जायेगा। बता दें कि रेलवे द्वारा तीसरी लाइन परियोजना थर्ड लाइन प्रोजेक्ट के तहत आदित्यपुर में रेलवे की जमीन पर अतिक्रमण कर रहने वाले लोगों को रेलवे की जमीन खाली करने का नोटिस दिया है तथा लोगों से स्वेच्छा से जमीन खाली करने को कहा है। ऐसा नहीं होने पर रेलवे द्वारा जमीन खाली करायी जायेगी। इसके बाद लोग यहां पहुंचे थे। चक्रधरपुर पहुंचने वालों में आदित्यपुर के शर्मा बस्ती, विद्युतनगर और मोहननगर बस्ती के लोग शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उजाड़ने से पहले पुनर्वास की व्यवस्था हो