DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मध्यान भोजन ने कराया प्रभारी का चिरहरण

बहिपुर संसू। प्रखंड के मध्यविद्यालय लत्तिपुर में पोशाक राशि और मध्यान भोजन में अनियमितता से बौखलाए छात्रों व अभिभावकों ने खुले आम बीच सभा में प्रभारी प्रधानाध्यापक अखिलेश्वर मंडल का धोती खिंचा और कुर्ता फाड़ डाला। हंगामा उस समय शुरू हुआ जब कक्षा सात एवं आठ के छात्र के अभिभावक पोशाक राशि लेने विद्यालय पहुंचे तो प्रधानाध्यापक ने उनसे कहा की अभी पैसा नही दिया जायेगा क्योंकि कम बच्चों का ही पैसा शेष रह गया है।

बस इसके बाद अभिभावक आक्रोशित हो गए और कई तरह की शिकायत करने लगे। अभिभावकों ने कहा कि यहां नियमित रूप से खिचड़ी बच्चों को दिया जाता है। अभिभावक आषा देवी के साथ कई अभिभावकों ने रजिस्टर देखे जाने की मांग करने लगे। आक्रोशित लोगों ने प्रभारी प्रधानाध्यापक के साथ धक्का मुक्कि शुरू हो गयी । औरतों ने विद्यालय का रजिस्टर छिनते हुए उनका चिरहरण शुरू कर दिया। लोग उन्हें चप्पल दिखाकर मारने को उतारू थे। बहिपुर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मामले को शांत कराया और रजिस्टर प्रधानाध्यापक को उपलब्ध कराया।

इसके बावत जब कक्षा सात के छात्रों से पूछ ताछ की गई तो उन्होंने कहा की विद्यालय के छात्रों को आज तक भोजन में केवल खिचडी खिलाई जाती है। आज तक ना तो कभी सब्जि बना और ना ही पोलाव का स्वाद पता है। विद्यालय में स्वादहीन भोजन तीन बजे परोसे जाते है। जब रसोईघर में पूछा गया तो पता चला की खाना बनाने के लिए जिन तीन लोगों की नियुक्ति की गई है उनमें से केवल एक किरण देवी मौजूद थीं जबकी दूसरी रंजू देवी के पती ललन ठाकुर खाना बना रहे थे।

ललन ठाकुर ने कहा की चार सौ बच्चों के लिये छह किलो दाल और लगभग बारह किलों चावल की खिचड़ी पक रही हैं। आज सब्जि नही हैं और जलावन का अभाव है। पोलाव पिछले कई माह से नही बना है और मैन्यु के हिसाब से कभी खाना नही बनता है। वही मौके पर पहुंचे जिला पार्षद अरूण कुमार सिंह ने कहा की जिस प्रकार के मध्यान भोजन की शिकायत है यह निंदनीय है। विद्यालय की जांच कर कार्रवाई की जाये।

क्या कहते हैं प्रभारी बीस की संख्या में औरतों ने आकर विद्यालय में हंगामा किया और कपडेम् फाड़े। विद्यालय में मध्यान भोजन में अनिमितता है पर पोशाक राशि में छह तक का वितरण किया गया है। सात और आठ कक्षा के लिए मात्र तीस बच्चों का राशि शेष है। जिले को सुचना दी जा चुकी है। औरतों ने कुछ असमाजिक तत्वों के दवाब में हंगामा किया । अब तक कक्षा सात की उपस्थिति पंजी गायब है। प्रखंड कार्यालय को फोन पर सूचना दी गयी है।

क्या कहते हैं सहायक शिक्षक वेदानंद शर्माआज से दस दिन पूर्व आशा देवी के द्वारा चप्पल दिखया गया था। दलित वर्ग का कह कर हमेश विद्यालय में आकर धमकाती हैं। क्या कहते हैं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारीमामले की जानकारी अब तक नही हुई हैं। अगर ऐसा हुआ है तो जांच के बाद कार्रवाई की जायेगी। जिला पार्षद के निधन पर शोकबहिपुर संसू प्रखंड के हरियो गांव में जिला पार्षद निरंजन सिंह के हत्या के बाद गुरुवार को शोक सभा आयोजित की गई।

मौके पर नवनिर्माण मंच के रवशिेखर भारद्वाज ने कहा की बारह दिनों बाद भी पुलिस अब तक किसी भी हत्यारे को गिरफतार नहीं कर पायी है जो निंदनीय है। वहीं अन्नपूर्णा देवी ने कहा की उन्हें अब तक कानून पर वशि्वास है पर यदि न्याय नही मिला तो आंदोलन करने को मजबूर होंगे। जिप अध्यक्ष सविता देवी एवं गोपालपुर विद्यायक गोपाल मंडल ने फोन से ही दुख एवं संवेदना व्यक्त की। पूर्व बहिपुर विद्यायक शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल ने कहा की यह दुखद घटना है।

मौके पर जगदीश दास, प्रो कुलदीप प्रसाद सिंह, सुरेश राज्यपाल, नारायण पासवान, कृष्णदेव शर्मा, रामविलाश सिंह, विनोद यादव, सुबोध राज्यपाल,किसुन शर्मा समेत कई लोगों ने श्रद्घा सुमन अर्पित कर उनके आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। फोटो संलग्नप्रभारी प्रधनाध्यापक अखिलेश्वर मंडलसहायक शिक्षक वेदानंद शर्माजिला पार्षद निरंजन सिंह को श्रद्घांजलि देतीं अन्नपूर्णा देवी एवं अन्य।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मध्यान भोजन ने कराया प्रभारी का चिरहरण