DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे समेत कई विभागों की संपत्ति हो सकती है जब्त

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता। रेलवे, बियाडा, जिला परिषद, भवन प्रमंडल सहित करीब दो दर्जन विभागों की संपत्ति जब्ती की कार्रवाई नगर निगम शीघ्र शुरू कर सकता है। इन विभागों पर नगर निगम का होल्डिंग टैक्स कई वर्षो से बकाया है।

बार-बार सूचना देने के बावजूद विभाग से निगम को बकाये टैक्स की राशि नहीं मिल रही है। अब नगर सचवि मनोज कुमार ने रेलवे, बियाडा, जिला परिषद सहित सभी संबंधित विभाग के अधिकारियों को नोटिस भेजी है, जिसमें टैक्स चुकाने के लिए सात दिनों की मोहलत दी गई है। चेतावनी भी दी गई है कि निर्धारित अवधि में टैक्स नहीं देने पर नगरपालिका अधिनियम 2007 की धाराओं के अनुरूप कार्रवाई की जायेगी। नगर विकास एवं आवास विभाग ने हाल ही में नगर आयुक्त को टैक्स की राशि नहीं देने वाले होल्डिंग धारक या संस्थान की संपत्ति कुर्क करने की शक्ति प्रदान किया है।

इसकी अधिसूचना जारी हो चुकी है। नगर आयुक्त अरुण कुमार सिंह ने टैक्स वसूली अभियान के लिए डीएम को पत्र लिखकर पुलिस बल मुहैया कराने का आग्रह किया है। नगर निगम के टैक्स दारोगा राशि वसूली के लिए बकायेदारों के यहां फोर्स लेकर जायेंगे। नगर सचवि मनोज कुमार ने बताया कि फिलहाल नोटिस भेजी गई है। राशि नहीं मिली तो नगरपालिका अधिनियम के तहत मिली शक्ति के अनुसार संपत्ति जब्ती से लेकर अन्य तरह की कार्रवाई तक का प्रस्ताव नगर आयुक्त को दिया जायेगा।

ये हैं नगर निगम के बड़े बकायेदार :: रेलवे (मुजफ्फरपुर जंक्शन सहित) पर 11.20 लाख रुपये, बियाडा पर 40.15 लाख रुपये, भवन प्रमंडल 79 लाख रुपये, बिजली विभाग पर 46 करोड़ रुपये, एमआईटी पर 23.95 लाख रुपये, कस्टम विभाग पर 21.52 लाख रुपये, जिला परिषद पर 19.13 लाख रुपये, भारत बैगन पर 6.25 लाख रुपये, पीएचईडी पर 7.62 लाख रुपये, आईटीआई पर 8.38 लाख रुपये, आबेदा हाईस्कूल पर 7.16 लाख रुपये, बीआरए बिहार विवि पर 3.08 लाख रुपये, नीतीश्वर सिंह कॉलेज पर 3.34 लाख रुपये, उर्दू गर्ल्स हाई स्कूल पर 6.35 लाख रुपये, एलएस कॉलेज पर 1.70 लाख रुपये, डीएन हाई स्कूल 1.95 लाख रुपये, गौशाला पर 1.54 लाख रुपये, जिला स्कूल पर 1.36 लाख रुपये।

ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेलवे समेत कई विभागों की संपत्ति हो सकती है जब्त