DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चंदौली में गोली मारकर किसान की हत्या

मची खलबली हत्याकांड के कारणों का नहीं चल सका पता जमीन संबंधी विवाद मानकर तफ्तीश में जुटी पुलिसदो दिन बाद होने वाली थी बेटे की शादी चहनियां (चंदौली)। हिन्दुस्तान संवादबलुआ के प्रसादपुर (बैराठ) गांव में शुक्रवार की देर रात बदमाशों ने घर के बाहर सोये किसान लौजारी यादव (42) की गोली मारकर हत्या कर दी। शनिवार को सुबह इसकी जानकारी होने पर परिजनों में कोहराम मच गया। दो दिन बाद ही 24 अप्रैल को किसान के बेटे की शादी होनी है। हत्याकांड से हंसी-खुशी का माहौल मातम में बदल गया। एएसपी रामचंद्र यादव और बलुआ व धानापुर पुलिस मौके पर पहुंच गयी। किसान की हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका। चर्चा है कि जमीन संबंधी विवाद में उसकी जान गयी।लौजारी यादव को गोली लगने की जानकारी उसके पास सोये लोगों को भी नहीं हुई। दरअसल, बगल में ही बारात आयी हुई थी। इसलिए लोगों ने गोली की आवाज पर ध्यान नहीं दिया। सुबह पत्नी ऊषा देवी खून से लथपथ पति को देख घबड़ा गयी। वह चिल्लाने लगी। उसकी आवाज सुनकर अन्य परिजन भी आ गये। सिर में गोली लगने से लौजारी की मौत हो चुकी थी। परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों की सूचना पर एएसपी रामचंद्र यादव, बलुआ के प्रभारी थानाध्यक्ष सियाराम यादव तथा धानापुर थानाध्यक्ष यादवेंद्र पांडेय पहुंच गए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। लौजारी यादव की बगल में सोये रज्जू यादव का कहना था कि रात में उसने गोली की आवाज सुनी। उसने समझा कि बगल में आयी बारात हो रही आतिशबाजी की आवाज है। हत्याकांड की वजह का पता नहीं चल सका है। जमीन संबंधी विवाद को आधार बनाकर पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गयी है। दृष्टिकोण मानकर तफ्तीश में जुट गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चंदौली में गोली मारकर किसान की हत्या