DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब नहीं कर पाउंगी प्यार: प्रत्यूषा

कलर्स चैनल पर आने वाला शो बालिका वधु आजकल एक दिलचस्प मोड़ पर है। सीरियल में छोटे पर्दे की फेवरेट जोड़ियों में से एक जग्या-आनंदी का तलाक होने जा रहा है। खुद दादी सा ने आनंदी से तलाक के पेपर्स पर साइन करवाए हैं। इसके बाद कैसे बदलेगी आनंदी की जिंदगी और कैसे आएगा सीरियल में नया मोड़, यह जानने के लिए प्रत्यूषा बनर्जी यानी अपनी आनंदी से आरती मिश्र ने की खास बातचीत।

आनंदी की जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव आए हैं। जग्या से 16 साल का आपका साथ छूटने को है? यह फैसला क्यों लिया?
इन सालों में से कई साल आनंदी और जग्या अलग रहे हैं। सात जन्म साथ रहने के वादे तो किए थे लेकिन अब जिंदगी को आगे बढ़ाने का समय है। गौरी के आने के बाद ही हमें यह फैसला ले लेना चाहिए था। कहानी में कई दिलचस्प मोड़ आने वाले हैं।

आनंदी अब भी जग्या से काफी प्यार करती है। ऐसे में उसके लिए यह फैसला कितना कठिन था?
आनंदी ने जग्या से बचपन से प्यार किया है। 8 साल की कच्ची उम्र में शादी के बाद आनंदी ने सिर्फ जग्या को ही पति माना है, उसके अलावा किसी और से वो प्यार करने की बात तक नहीं सोच सकती है। इसलिए सबसे ज्यादा परीक्षा आनंदी की ही है। तकलीफ तो होगी पर सही यही है। परिवार का फैसला आनंदी नहीं ठुकरा सकती।

तलाक के बाद आनंदी अब खुद को बिजी रखने के लिए क्या करेगी?
आनंदी सरपंच है। जैतसर गांव और अपने परिवार की सेवा करती रहेगी। स्कूल में भी उसका पढ़ाना जारी रहेगा। समाज के कुरीतियों के प्रति आनंदी आवाज बुलंद करेगी।

कहानी में जिस तरह आपके परिवार ने जग्या से आपके तलाक का फैसला लिया है, क्या असल जीवन में ऐसा होना चाहिए?
जी हां, मैं इसे सही मानती हूं। जो रिश्ता सिर्फ नाम का ही बचा हो, उसे खत्म करने में ही सभी की भलाई है। जीवन बहुत सुंदर है, खुद के बलबूते जीवन जीना चाहिए। हर महिला को आत्मनिर्भर बनना चाहिए, आत्मविश्वास बढ़ाना चाहिए।

सीरियल में आप जैसी दिखती हैं, असल जिंदगी में भी वैसी ही हैं या कुछ अलग?
मैं सीरियल वाली आनंदी की तरह बिल्कुल नहीं रहती। घर में रफ-टफ रहती हूं। मस्ती करना पसंद है। टाइमं मिलते ही सो जाती हूं क्योंकि पूरे हफ्ते की शूटिंग थका देने वाली होती है। मेकअप तो बिल्कुल नहीं करती। मेरी स्किन अच्छी है इसलिए जरूरत ही नहीं पड़ती है।

खाली समय में क्या करती हैं?
दोस्तों के साथ समय बिताना बहुत पसंद है। म्यूजिक के लिए मैं पागल हूं। आप मुझे 16 घंटे गाने सुनाएंगे तब भी मैं बोर नहीं होउंगी।

अगर एक्टर नहीं होतीं तो क्या बनतीं?
मुझे गाना बहुत पसंद है। मैं सिंगर बनती।

खाने में क्या पसंद है?
मुझे नॉन वेज ज्यादा पसंद है। चिकन खाना पसंद करती हूं। घर का खाना पसंद है।

अपने बचपन के बारे में कुछ बताइए?
मैं बंगाली लड़की हूं। जमशेदपुर में पली-बढ़ी हूं। स्कूल के दिनों से ही नाटक आदि में भाग लिया करती थी। पढ़ाई में मैं हमेशा से ही अच्छी रही थी। मैंने कथक नृत्य की ट्रेनिंग ली है।

प्रत्यूषा कब शादी की डोर में बंधेगी?
अभी 2 साल हैं। जीवनसाथी तो चुन लिया है, मगर अभी हम दोनों एक-दूसरे को समझने के लिए समय दे रहे हैं।

आनंदी की नई शुरुआत
बालिका वधु में कहानी के रोमांचक मोड़ हमेशा लोगों को पसंद आते हैं। जग्या द्वारा आनंदी को धोखा देने और गौरी से शादी करने के बाद, आनंदी के जीवन में एक ठहराव सा आ गया था और उसके विवाह पर एक प्रश्नचिन्ह सा लग गया था। परिवर्तन की लहरों ने परिवारों को झकझोर कर रख दिया था। जीवन के पथ पर आगे बढ़ने में उसकी मदद दादीसा कर रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब नहीं कर पाउंगी प्यार: प्रत्यूषा