DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीलंकाई विदेश मंत्री के आरोपों पर करूणानिधि का वार

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और द्रविड मुन्नेत्र कषगम (द्रमुक) के अध्यक्ष एम करूणानिधि ने श्रीलंका के विदेश मंत्री गोताबया राजपक्षे के तमिल ईलम के समर्थकों के आतंकवादी होने संबंधी आरोपों का जोरदार खंडन किया है।

करूणानिधि ने शुक्रवार रात संवाददाताओं से कहा कि राजपक्षे के इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है कि तमिल ईलम की मांग कर रहे लोग श्रीलंका में आतंकवाद को बढ़ावा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि द्रमुक तमिल ईलम के गठन के लिए किसी भी तरह के आतंकवादी रास्ते का समर्थन नहीं करती है। मेरा मानना है कि ईलम के लिए जारी संघर्ष में आतंकवाद का कोई दखल नहीं होना चाहिए।

श्रीलंका में तमिलों के लिए अलग स्वायत्तशासी क्षेत्र की मांग को समर्थन देते हुए करूणानिधि ने कहा कि वहां पर बहमुत में मौजूद सिंहली समुदाय द्वारा तमिलों पर किए जा रहे अत्याचार को रोकने के लिए यह निहायत ही जरूरी है। गौरतलब है कि द्रमुक लंबे अरसे से श्रीलंकाई तमिलों के अधिकारों की आवाज बुलंद करती रही है।

उन्होंने भारत में तमिलों के लिए पृथक स्वशासी क्षेत्र की मांग करने संबंधी राजपक्षे के सुझाव को सिरे से खारिज करते हुए कहा.. मैं श्रीलंका में सिंहली समुदाय द्वारा किए जाने वाले अत्याचारों की वजह से तमिलों के लिए पृथक क्षेत्र की मांग कर रहा हूं। जहां तक भारत का सवाल है तो यहां केंद्र सरकार कहीं पर भी तमिलों के खिलाफ जुल्म नहीं ढा रही है लिहाजा इस मांग का कोई औचित्य नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्रीलंकाई विदेश मंत्री के आरोपों पर करूणानिधि का वार