DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मलबे से तीन और शव बरामद, मृतकों की संख्या 23

पंजाब में जालंधर फोकल प्वाइंट क्षेत्र में मलबे में तब्दील चार मंजिला इमारत से गुरुवार देर रात तीन और शव निकाले जाने के बाद श्रीतल विग फेव्रिक्स हादसे के मृतकों की संख्या बढ़कर 23 हो गई है।

इस घटना में घायल 17 लोगों का इलाज चल रहा है। मलवे में कई मजदूरों के दबे होने की आशंका है। इनके बचने की कोई उम्मीद नहीं है। तेईस अप्रैल तक पुलिस रिमांड पर चल रहा उद्योगपति शीतल विज मजदूरों की सही संख्या बताने में आनाकानी कर रहा है।

पुलिस का कहा है कि वह कतई सहयोग नहीं कर रहा है और कहता है कि फैक्टरी के रिकार्ड का उसे मालूम नहीं है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल के जवानों ने अब घटना स्थल पर खंभों पर लिखना शुरू कर दिया है 'नो विक्टिम एलाइव' हालांकि अभी काफी हद तक मलबा उठा लिया है लेकिन जितना मलबा है उसे उठाने में कम से कम तीन-चार दिन लग सकते हैं।

राहत तथा बचाव कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। सेना से लेकर अन्य सभी जवान तथा गैर सरकारी संगठनों के वालंटियर्स अपनी परेशानी को भूलकर लोगों को बचाने में जुटे हैं। जालंधर मंडल के आयुक्त अनुराग वर्मा की अध्यक्षता में बनीं जांच समिति अपने काम में जुटी है।

वर्मा ने शुक्रवार को यहां बताया कि पंजाब लघु उद्योग एवं निर्यात निगम से शीतल फाइबर्स का तमाम रिकार्ड तलब किया है क्योंकि बढ़िया क्वालिटी का कंबल इसी से निर्यात होता था। फैक्टरी का सारा रिकार्ड जाने के बाद कुछ स्थिति स्पष्ट होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मलबे से तीन और शव बरामद, मृतकों की संख्या 23