DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लूट में नाकाम डकैतों ने पूर्व प्रधान को गोली से उड़ाया

क्षेत्र के ग्राम चौखड़ा के सिख फार्मर के घर में डकैती डालने में असफल रहे लगभग आठ-दस असलहाधारी बदमाशों ने पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या और लूट की सनसनीखेज वारदात से ग्रामीणों में दहशत फैल गई है। पुलिस ने मृतक के पौत्र की तहरीर पर अज्ञात डकैतों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। सूचना पर गांव पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और अभियुक्तों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए।

क्षेत्रीय ग्राम पंचायत भगवंतनगर के मजरा ग्राम चौखड़ा निवासी पूर्व प्रधान हरी सिंह (85) पुत्र पाखर सिंह के घर घुसे लगभग आठ-दस असलाहधारी डकैतों ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। बताया गया कि एक दिन पूर्व बोलेरो गाड़ी खरीदने के लिए बैंक से निकालकर लाए गए रुपयों को लूटने के लिए डकैतों ने उनके घर धावा बोला था।

जबकि उनका पौत्र बबलू इन रुपयों से गाड़ी खरीदकर घटना से कुछ देर पहले ही घर वापस आया था। सिख फार्मर के नौकर सेवकराम, अवधराम, वेदराम के अनुसार वह तीनों बीती रात हमेशा की तरह जंगल किनारे बनी झोपड़ी में रहकर फसलों की रखवाली कर रहे थे।

इस दौरान असलाह लिए आठ बदमाश आ गए और बिना कुछ कहे-सुने पिटाई करके जबरन हाथ-पैर बांध दिए और हरी सिंह के घर वालों के बारे में पूछताछ की। पूरी जानकारी मिल जाने पर बदमाश तीनों नौकरों को लेकर हरी सिंह के घर पहुंच गए और पिछला दरवाजा यह कहकर खुलवाने का प्रयास किया हम लोग फारेस्ट के हैं। तुम्हारे नौकरों ने जंगल से खैर की लकड़ी काटी है।

इस बीच हरी सिंह का पौत्र वीरेन्द्र सिंह उर्फ बबलू ने सामने के गेट से आवाज लगायी। जिसपर बदमाश वहां पर पहुंच गए उनको देखकर जब बबलू ने गेट बंद करने का प्रयास किया तो बदमाशों ने उस पर डंडों से प्रहार किया और जबरन गेट खोलकर घर के भीतर घुस गए।

बरामदे में खड़े हरी सिंह ने बदमाशों का विरोध किया तो बदमाशों ने उनके सीने में गोली मार दी जिससे घटनास्थल पर ही हरी सिंह की मौत हो गई। बदमाश भाग गए। उधर सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा।

बदमाशों के दुस्साहस का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वृद्ध सिख की हत्या करने के बाद वह निकटवर्ती ग्राम बेला टापर के हीरालाल पुत्र गोपाली पाल के घर घुस गए। परिजनों को बंधक बना लिया और महिलाओं से सोने के कुंडल, चांदी की पायल, बिछिया, करधनी और एक हजार रुपए छीनकर भाग गए।

एक ही रात में हत्या और लूट की हुई इन सनसनीखेज घटनाओं से ग्रामीणों में दहशत फैल गई है। थाना पुलिस ने मृतक के पौत्र वीरेन्द्र सिंह बबलू की तहरीर पर सात आठ अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। उधर सूचना पर गांव पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक सौमित्र यादव ने घटनास्थल का निरीक्षण किया साथ ही बबलू और उनके तीनों नौकरों से पूरे मामले की जानकारी हासिल करके अधीनस्थों को शीघ्र ही अभियुक्तों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लूट में नाकाम डकैतों ने पूर्व प्रधान को गोली मारी