DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रधानमंत्री करेंगे भटिंडा रिफाइनरी का उद्घाटन

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह 28 अप्रैल को पंजाब में भटिंडा के नजदीक 21,500 करोड़ रुपये की लागत वाली गुरु गोबिंद सिंह रिफाइनरी का औपचारिक उद्घाटन करेंगे। स्वतंत्रता के बाद से यह पंजाब में सबसे बड़ा निवेश है।

रिफाइनरी पंजाब के दक्षिण-पश्चिमी हिस्से में चण्डीगढ़ से 250 किलोमीटर दूर भटिंडा शहर के नजदीक है।

यह हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) व इस्पात निर्माता लक्ष्मी मित्तल की कम्पनी की अनुषंगी मित्तल एनर्जी लिमिटेड का संयुक्त उद्यम है। हाल ही में इस परियोजना में पूरी तरह से काम शुरू हो गया है, लेकिन इसके औपचारिक उद्घाटन की प्रतीक्षा थी।

रिफाइनरी के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) प्रभ दास ने कहा कि इसे हाल ही में रिकॉर्ड समय में शुरू कर लिया गया है।

दास ने कहा कि रिफाइनरी ने अगस्त 2011 में खनिज तेल का परिष्करण शुरू कर दिया था। रिफाइनरी का निर्माण 2008 में शुरू हुआ था और इसका मतलब है 48 महीने से भी कम समय में इसमें काम शुरू हो गया था।

उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार के सहयोग से कम्पनी 27 महीने की अवधि में कच्चे तेल का एक टर्मिनल व 1,017 किलोमीटर लम्बी देश से बाहर जाने वाली पाइपलाइन बना सकती है।

उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि रिफाइनरी के पूरी तरह काम शुरू कर देने के साथ भंटिडा क्षेत्र के कई अन्य उद्योगों को भी फायदा होगा। उन्होंने कहा कि इससे हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा।

इस परियोजना की नींव 1998 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रखी थी। वैसे 2002 में राज्य में अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार बनने के बाद यह रिफाइनरी लगाई गई और परियोजना शर्ते निर्धारित की गईं।

साल 2007 में प्रकाश सिंह बादल की सरकार लौटने के बाद 2008 में इस परियोजना की दोबारा शुरुआत की गई।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रधानमंत्री करेंगे भटिंडा रिफाइनरी का उद्घाटन