DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमगढ़ में अगलगी से 200 मड़हे खाक

लाटघाट (आजमगढ़)। हिन्दुस्तान संवाद। हरैया ब्लाक के देवारा अचल नगर के पुरवा गरीब दूबे गांव में बुधवार को आग ने जबर्दस्त कहर बरपाया। भीषण लपटों ने 200 मड़हों को अपने आगोश में ले लिया। इससे 30 परिवार खुले आकाश के नीचे आ गये। उनके पास खाने-पीने का सामान भी नहीं बचा। इस बीच, सूचना पाकर जब तक फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंचा तब तक आग से भारी तबाही मच चुकी थी।

तेज पछुवा हवा के कारण आग बुझाने में दमकलकर्मियों को दिक्कत हुई। तीन घंटे के अथक प्रयास के बाद वे आग पर काबू पा सके। अग्निकांड में 10 लाख का नुकसान होने का अनुमान है। इसमें चार बकरियां भी जल मरीं। बताते हैं कि गरीब दूबे इलाके में दोपहर 12 बजे लालचंद की पुत्री की शादी के लिए भोजन बन रहा था।

इस दौरान चिंगारी से मड़हे में आग लग गयी। इससे कोहराम मच गया। जान बचाने के लिए भगदड़ मच गयी। लोगों की चीख-पुकार सुनकर आसपास के गांवों के लोग भी मौके पर आ गये। पानी और धूल-मिट्टी के जरिये उन्होंने आग पर काबू पाने की कोशिश की लेकिन तेज पछुवा हवा के कारण उन्हें सफलता नहीं मिली।

अग्निकांड में लालचंद, तूफानी, कतवारू, कुंअर, बालचंद, विजयी, दुर्ग विजय, यखन, शुभकरन, जगदीश, जीतेन्द्र, राजेन्द्र महती, सुरेन्द्र, महेन्द्र, फूलचंद्र, रामचन्दर, हरिश्चंद्र, रशीद, सफी, शहीद, सहाना बेगम, राम कृपाल, सुखराज, झीनक, सुखारी, बुद्धिराम, बुद्धिराम, बेचन, रुमिया और दुर्बल समेत 38 परिवार के कुल 200 मड़हे खाक हो गए।

इसमें अनाज, बर्तन, जेवर, कपड़े, बिस्तर, रजाई, गद्दा सहित 10 लाख रुपये मूल्य सामान आग की भेंट चढ़ गये। अग्निकांड के बाद नायब तहसीलदार आलोक कुमार, कानूनगो हरिहर यादव व लेखपाल गोरख यादव सहित 10 लेखपाल क्षति के आकलन के लिए मौके पर पहुंचे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आजमगढ़ में अगलगी से 200 मड़हे खाक