DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्युत परियोजनाओं को को लेकर सांकेतिक हड़ताल

उत्तराखंड में केन्द्र सरकार द्वारा गंगा की अविरलता के नाम पर बंद की गयी प्रमुख जल विद्युत परियोजनाओं को फिर से शुरू किये जाने की मांग को लेकर बुधवार को एक स्वयंसेवी संगठन ने स्थानीय गांधी पार्क में सांकेतिक हड़ताल शुरू की।

पदमश्री से नवाजे गए रूलक के अध्यक्ष अवधेश कौशल, पूर्व सांसद परिपूर्णानंद पैन्यूली तथा वैज्ञानिक धीरेन्द्र शर्मा तथा अन्य कई लोगों ने बुधवार को सांकेतिक धरना शुरू किया तथा राज्य की बिजली की आवश्यकताओं को देखते हुए इन परियोजनाओं को शुरू किये जाने पर बल दिया।

हड़ताल पर बैठे लोगों ने केन्द्र सरकार को चेतावनी दी कि यदि सरकार ने इन परियोजनाओं को सात दिन के भीतर शुरू नहीं किया तो वे नागरिक इंजीनियरों द्वारा इस पर कार्य शुरू करा देंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में विद्युत की अपार संभावनाओं के बावजूद राज्य को अपनी जरूरतों के लिये करीब 700 करोड़ रुपये की बिजली खरीदनी पड़ रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विद्युत परियोजनाओं को को लेकर सांकेतिक हड़ताल