DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घर, कार लोन सस्ते होने का रास्ता साफ

बैंकों के होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन पर ब्याज की दरें जल्द ही सस्ती होंगी। रिजर्व बैंक ने मंगलवार को अल्पावधि उधारी दर रेपो में आधा प्रतिशत की कटौती का ऐलान किया। इसके बाद प्रमुख बैंकों ने भी ब्याज दरों में 0.25 से लेकर 0.5 फीसदी तक कटौती का संकेत दिया है। इससे देश के पांच करोड़ से ज्यादा लोगों को राहत मिलेगी।

वित्त वर्ष 2012-13 के लिए मौद्रिक एवं ऋण नीति का ऐलान करते हुए आरबीआई के गवर्नर डी. सुब्बाराव ने कहा कि यह कटौती 2008 की मंदी से पूर्व 9 प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि दर के स्तर को फिर से हासिल करने के उद्देश्य से की गई है। आरबीआई ने हालांकि नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) को बरकरार ही रखा है। रेपो दर में कटौती के अनुपात में ही रिवर्स रेपो भी कम किया गया है।

वित्तमंत्री प्रणव मुखर्जी ने कहा कि आरबीआई के कदम से निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा और विकास दर बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि विकास दर को बढ़ावा देने तथा महंगाई को नियंत्रित करने के लिए सरकार और कदम उठाएगी।  एसबीआई के अध्यक्ष प्रदीप चौधरी ने कहा कि निश्चित तौर पर ब्याज-दरों में कटौती के फैसले का फायदा उपभोक्ता तक पहुंचाएंगे। लेकिन ब्याज-दरों कटौती एकसमान नहीं होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घर, कार लोन सस्ते होने का रास्ता साफ