DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

guide4living.com

आमतौर पर पार्किसन को बड़ी उम्र के लोगों का रोग माना जाता है। तंत्रिका तंत्र में अनियमितता के कारण शरीर को मस्तिष्क से सही निर्देश नहीं मिलते और मांसपेशियों की गतिविधियों में बदलाव आ जाता है, मसलन हाथों की उंगुलियों का हिलना, शरीर का संतुलन न बनना या फिर चलने में समस्या होना आदि। पार्किसन पर यहां विस्तृत जानकारी दी गई है, जिसे कई भागों में बांटा गया है। डाइट एंड एक्सरसाइज के तहत पार्किसन के रोगियों के लिए व्यायाम को फायदेमंद बताया गया है। नियमित व्यायाम से मस्तिष्क में ऐसे रसायन उत्पन्न होते हैं, जो दिमाग को अवसाद मुक्त रखते हैं। जिन लोगों को जोड़ों में समस्या होती है, उनके लिए पैदल चलना अच्छा व्यायाम माना जाता है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:guide4living.com