DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुरैशी का ऑनलाइन वोटिंग, स्टेट फंडिंग से इंकार किया

मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई कुरैशी ने कहा कि उन्हें निकट भविष्य में ऑनलाइन मतदान सच्चाई बनता नहीं दिख रहा है जबकि देश में होने वाले चुनाव में सरकारी कोष से धन मुहैया कराने के लिए पहले चुनाव प्रक्रिया में कुछ प्रमुख सुधार जरूरी होगा।
 
कुरैशी ने सीआईआई के एक कार्यक्रम में कहा कि ऑनलाइन मतदान, प्रौद्योगिकी रूप से हमारे लिए बच्चों का खेल है। हम आईटी सुपर पावर हैं। हम इसे स्वीकार करें, लेकिन निकट भविष्य में हमें ऐसा होता नहीं दिख रहा है।
 
चुनाव में सरकारी कोष से धन मुहैया कराने के मुद्दे पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि वित्तीय पारदर्शिता और राजनीतिक दलों के अंदर लोकतंत्र लाने के बाद ही इस पर विचार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आपकी सुरक्षा और आपकी ईमानदारी हमारी चिंता है। कोई आप पर बंदूक तान दे और आपसे से उसको वोट देने को कहे। हमें आशा है कि आपका लैपटॉप इससे आपका बचाव नहीं कर पाएगा। दूसरी बात, हम आप पर भरोसा भी नहीं करते। कोई आपके पास आए और आपको पांच हजार रुपये दे और आपसे कहें कि आप उसे वोट दें। जब तक हम इसे रोकने में सक्षम नहीं हो जाते, यह (ऑनलाइन मतदान) नहीं हो सकता। कुरैशी ने इस बात पर जोर दिया कि सुशासन के लिए मतदाताओं की भागीदारी जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुरैशी का ऑनलाइन वोटिंग, स्टेट फंडिंग से इंकार किया