DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नरसंहार आरोपियों को बरी करने के विरोध में जाम

बिहार में भोजपुर जिले के बथानी टोला नरसंहार मामले में सजायाफ्ता सभी 23 अभियुक्तों को न्यायालय से बरी किए जाने के विरोध में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी-लेनिनवादी) के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार सुबह से आरा समेत जिले के कई हिस्सों में प्रदर्शन कर सड़क यातायात को बाधित कर रखा है।

पटना हाई कोर्ट से बरी किए जाने के विरोध में भाकपा माले के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग 30 को बस अड्डे के निकट जाम कर दिया है जिससे आरापटना मुख्य मार्ग पर परिचालन ठप हो गया है। वहीं जगदीशपुर थाना के निकट सड़क पर धरना देकर कार्यकर्ताओं ने यातायात को बाधित कर रखा है। इसी तरह तरारी और सहार में भी कार्यकर्ताओं के धरना-प्रदर्शन के कारण यातायात बाधित हो गया है।

इस बीच पुलिस सूत्रों ने बताया कि माले कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के कारण शहर में यातायात व्यवस्था बाधित है और सड़कों पर वाहनों की लंबी कतारें लगी है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर नजर रखे हुए हैं। हालांकि अभी तक कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

गौरतलब है कि पटना हाई कोर्ट ने बिहार के चर्चित भोजपुर जिले के बथानी टोला नरसंहार मामले में निचली अदालत से फांसी की सजा पाए आठ और उम्रकैद की सजा पाए 15 अभियुक्तों को कल बरी कर दिया था। इन लोगों पर जुलाई 1996 में भोजपुर जिले के बथानी टोला में 18 लोगों की हत्या करने का आरोप था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नरसंहार आरोपियों को बरी करने के विरोध में जाम