DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तुलनात्मक अध्ययन के बाद सरकार को सौंपी जाएगी रिपोर्ट: सिंह

शाह कमीशन के सदस्य यूबी सिंह ने खदानों के भौतिक सत्यापन के बाद अनियमितता पाए जाने के संकेत दिए हैं। हालांकि, उन्होंने इस संबंध में किसी खदान विशेष के बारे में कुछ भी स्पष्ट रूप से नहीं कहा।

सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान श्री सिंह ने कहा कि लौह अयस्क खदानों में भौतिक सत्यापन के क्रम में जो कुछ भी बातें सामने आयी हैं, उनका राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराए गए रेकार्डो के साथ तुलनात्मक अध्ययन कर रिपोर्ट भारत सरकार को दिया जाएगा। जन सुनवाई के क्रम में जितने भी लोगों ने अपनी-अपनी बातों को रखा था, उन सब बातों का अध्ययन कर सरकार को रिपोर्ट दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि भौतिक सत्यापन के लिए चार आधार बनाए गए थे। इसमें यह देखना था कि कहीं कोई माइंस प्रबंधक अतिक्रमण तो नहीं कर रहा। सरकार को राजस्व समुचित रूप में मिल पा रहा है या नहीं, क्षेत्र के लीज में कोई अतिक्रमण तो नहीं है तथा अतिक्रमण के कारण उत्पादन निर्धारित क्षमता से ज्यादा तो नहीं दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि इन सारे बिंदुओं को ध्यान में रखकर खदानों का भौतिक सत्यापन किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तुलनात्मक अध्ययन के बाद सरकार को सौंपी जाएगी रिपोर्ट: सिंह