DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व मंत्री निषाद के दो गवाहों के बयान दर्ज

तख्त श्री हरमंदिर साहिब पटना गुरुद्वारा का कार्यकारिणी सदस्य बनने के लिए झारखंड गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह और निवर्तमान कार्यकारिणी सदस्य धनबाद के सरदार सेवा सिंह में सीधी टक्कर है।

सरदार शैलेंद्र सिंह पहली बार अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं तो सरदार सेवा सिंह अपनी पद की रक्षा के लिए चुनावी मैदान में डटे हैं। 21 अप्रैल को पटना में होनेवाले चुनाव के लिए दोनों प्रत्याशी अपना प्रचार युद्ध स्तर पर कर रहे हैं।

सरदार शैलेंद्र सिंह धनबाद के बाद दुगदा, चंद्रपुरा, बोकारो थर्मल के चुनावी दौरे पर गुरुद्वारे के प्रतिनिधियों का समर्थन जुटाने में लगे हैं। उधर, सेवा सिंह सासाराम, धनबाद, बोकारो, रामगढ़, रांची के बाद मंगलवार को जमशेदपुर समर्थन मांगने पहुंच रहे हैं।

उन्हें भरोसा है कि सीजीपीसी के अंतर्गत मान्यता प्राप्त 33 गुरुद्वारे उनका साथ देंगे। सीजीपीसी का नौ वर्ष प्रधान रहे सरदार शैलेंद्र सिंह का चुनाव हारने के बाद तख्तश्री हरमंदिर साहिब पटना का प्रतिनिधि बनना उनकी प्रतिष्ठा से जुड़ गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्व मंत्री निषाद के दो गवाहों के बयान दर्ज