DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिप्टी सीओएम ने गंगा में छलांग लगाई

पूर्व-मध्य रेलवे मुख्यालय हाजीपुर में पोस्टेड उप मुख्य परिचालन प्रबंधक (डिप्टी सीओएम) जफर आलम ने सोमवार को गांधी सेतु से गंगा में कूद कर खुदकुशी करने की कोशिश की पर मौके पर मौजूद मछुआरों ने उन्हें सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

जफर राजधानी के आशियाना इलाके में रहते हैं। दिन में करीब 11  बजे यह घटना उस समय हुई जब डिप्टी सीओएम इंडिगो कार से दफ्तर जा रहे थे। हालांकि उनके परिजनों का दावा है कि वे फिसलकर गंगा नदी में गिर पड़े। 

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पानी में जोर की आवाज होने पर गायघाट जेटी के समीप नाव लेकर खड़े मछुआरों आदि की नजर जफर पर पडी। वे पानी में डूब रहे थे। तत्काल मछुआरे नाव लेकर दौड़े और उन्हें बाहर निकाला गया। वे ऊंचाई से नदी में गिरने के कारण काफी घायल थे।

सूचना पाकर मौके पर पहुंची आलमगंज थाने की पुलिस जफर को इलाज के लिए एनएमसीएच ले गई। बाद में आला अफसरों और परिजनों के पहुंचने पर उन्हें बेहतर इलाज के लिए राजेश्वर अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में जफर के परिजन और रेलवे के कुछ आला अफसरों ने बताया कि आलम आलमगंज थानांतर्गत सेतु के पाया नंबर 42 के पास फातिहा (पूजा की सामग्री) फेंक रहे थे।

इस दौरान उन्हें चक्कर आ गया और वे गंगा नदी में गिर पडे। परिजनों ने पटना सिटी के डीएसपी सुशील कुमार के समक्ष भी फिसल कर गिरने का बयान दिया। हालांकि पटना पुलिस मुख्यालय ने प्रथम दृष्टया इसे खुदकुशी का प्रयास बताया है। लेकिन इसका कारण अभी स्पष्ट नहीं है।

संयोगवश जिस जगह पर घटना हुई वहां फिलहाल पानी कम है। सेतु से काफी ऊंचाई से पानी में गिरने के बाद डिप्टी सीओएम के शरीर पर कोई बाहरी जख्म तो नहीं है पर सीना, पीठ आदि अंगों में अंदरूनी चोट लगी है। डॉक्टरों के मुताबिक उनकी स्थिति खतरे से बाहर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डिप्टी सीओएम ने गंगा में छलांग लगाई