DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कारखाने की इमारत गिरी, दो मरे, 59 घायल

जालंधर के फोकल प्वाइंट इलाके में रविवार देर रात एक कारखाने की तीन मंजिली इमारत गिरने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई और 59 अन्य घायल हुए। अभी कई और लोगों के इमारत के मलबे में दबे होने की आशंका है।

कंबल बनाने वाले इस कारखाने के सुरक्षा गार्डों और इसमें काम करने वाले श्रमिकों के अनुसार जिस समय यह इमारत गिरी उस समय अमूमन रोजाना 250-300 लोग कारखाने में होते हैं। उनका कहना है कि रविवार की पाली में कथित रूप से लगभग 304 श्रमिकों की उपस्थिति दर्ज है।

हादसे के बाद जिलाधिकारी प्रियांक भारती ने सेना तथा नेशनल डिसास्टर रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ) को राहत और बचाव कार्य के लिए बुला लिया। भटिंडा से आयी एनडीआरएफ की एक टीम सुबह छह बजे मौके पर पहुंच गयी थी और अपना काम शुरू कर दिया।

एनडीआरएफ की टीम के प्रमुख तथा सहायक कमांडेंट मुसाफिर ने पत्रकारों को बताया कि दल ने अब तक मलबे में दो शवों का पता लगाया है। उनमें से एक को निकाला गया है और दूसरे को निकालने की कोशिश जारी है। लेकिन हम पहले उन लोगों को निकालने में लगे हैं जो जिंदा मलबे में दबे हैं।

मुसाफिर के अनुसार, हमारी टीम अपना काम कर रही है। इसमें स्थानीय बचाव दल और धार्मिक संगठनों के स्वयंसेवकों का भी सहयोग मिल रहा है। मलबे में श्रमिकों के फंसे होने के चलते बचाव एवं राहत कार्य में विशेष सावधानी बरती जा रही है। कोशिश यही है कि मलबा हटाने की भारी मशीनरी से मलबे में फंसे व्यक्तियों को कोई नुकसान न पहुंचे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कारखाने की इमारत गिरी, दो मरे, 59 घायल