DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस आधुनिकीकरण के लिए केन्द्र करे मददः नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में नक्सलवाद से निबटने के लिए सोमवार को केन्द्र सरकार से 'आपकी सरकार आपके द्वार' कार्यक्रम को सभी नक्सल प्रभावित पंचायतों में लागू करने के लिए वित्तीय सहायता देने तथा पुलिस आधुनिकीकरण के लिए शत प्रतिशत सहायता देने मांग की। उन्होंने राज्य की जनता से भी इस समस्या के समाधान में सुरक्षा बलों को सहयोग करने की अपील की।

कुमार ने यहां आंतरिक सुरक्षा पर आयोजित मुख्यमंत्रियों की बैठक में यह बात कही। बैठक का उद्घाटन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने किया और गृहमंत्री पी चिदम्बरम ने स्वागत भाषण दिया।

कुमार ने आंतरिक सुरक्षा और नक्सलवाद की समस्या को आर्थिक असमानता, क्षेत्रीय असंतुलन तथा भ्रष्टाचार, का नतीजा बताते हुए कहा कि बिहार वामपंथी उग्रवाद की समस्या को सुलझाने के लिए विकास के दृष्टिकोण से नक्सल प्रभावित जिलों में 'आपकी सरकार आपके द्वार' कार्यक्रम चलाकर इंदिरा आवास, सामुदायिक भवन, ग्रामीण सड़कों का निर्माण किया तथा स्कूल की इमारते बनाई।

उन्होंने कहा कि हम केन्द्र सरकार से अनुरोध कर रहे है कि वह इस योजना को सभी नक्सल प्रभावित पंचायतों में लागू करने के लिए राज्य सरकार को आर्थिक मदद करे। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार ने प्रयासों का ही नतीजा है कि वर्ष 2001-05 की तुलना में वर्ष 2006-11 में उग्रवादी घटनाओं में 48 प्रतिशत की कमी आई है तथा काफी मात्रा में नक्सलियों से हथियार भी बरामद हुए।

उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार ने अपनी पुलिस व्यवस्था को मजबूत बनाया है और राज्य में अपराध की घटनाओं में कमी आई है। पुलिस बल के आधुनिकीकरण की अवधि को अगले दस वर्ष तक बढ़ाना है। बिहार को अभी (बी) श्रेणी के राज्य में रखा गया है और उसे 75 प्रतिशत राशि ही केन्द्र से मिलती है पर उसे (ए) श्रेणी के राज्यों में रखा जाना चाहिए ताकि केन्द्र से 100 प्रतिशत की सहायता मिल सके। इसके अलावा पुलिस के रख रखाव का भी खर्चा केन्द्र दे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस आधुनिकीकरण के लिए केन्द्र करे मददः नीतीश