DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोयले का अवैध कारोबार, उग्रवादियों के वित्तपोषण का स्रोत: गोगोई

असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने सोमवार को कहा कि पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों से सटे उनके राज्य के सीमावर्ती इलाकों में कोयले का अवैध कारोबार आतंकी संगठनों के वित्तपोषण का तेजी से प्रमुख स्रोत बनता जा रहा है।

आंतरिक सुरक्षा पर मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन में गोगोई ने असम में माओवादियों की उपस्थिति पर चिन्ता का इजहार किया। उन्होंने कहा कि राज्य में यह एक बडा खतरा बन सकता है, जहां पिछले साल उग्रवाद से जुडी घटनाओं में तेजी से कमी आयी है।

उन्होंने पूर्वोत्तर के उग्रवादियों को पनाह नहीं देने की बांग्लादेश की नीति और केन्द्र एवं राज्य के सुरक्षाबलों के बीच बेहतर समन्वय को उग्रवादी हिंसा में कमी की प्रमुख वजह बताया। मुख्यमंत्री ने हालांकि कहा कि अवैध कोयला कारोबार से उग्रवादी संगठन धन हासिल कर रहे हैं।

गोगोई ने कहा कि पडोसी राज्यों के सीमावर्ती इलाकों में हो रहे कोयले के अवैध कारोबार में असम के जरिए उग्रवादी संगठनों को धन हासिल हो रहा है। नगालैंड का दीमापुर अवैध हथियार कारोबार और अपराधियों एवं उग्रवादियों की पनाह का प्रमुख केन्द्र बनकर उभर रहा है। असम में आंतरिक सुरक्षा की चुनौतियों को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि नकली नोट एक बडी समस्या है, जिससे सीमा पर बेहतर गश्त के जरिए निपटा जा सकता है। भारत-बांग्लादेश और भारत-नेपाल सीमा के जरिए नकली नोट भारत पहुंच रहा है इसलिए इन देशों के सीमावर्ती जिलों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोयले का अवैध कारोबार, उग्रवादियों के वित्तपोषण का स्रोत: गोगोई