DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंड-बाजा बारात तैयार पर वाहन नदारद

हिन्दुस्तान प्रतिनिधि पटना। खरमास समाप्त होने के बाद लगन शुरू होते ही वाहनों की मारामारी शुरू हो गई है। लगन को लेकर एक माह पहले से ही वाहनों की बुकिंग हो रही थी। खासकर छोटे वाहनों के लिए तो लंबी कतार लगी है। बस, मिनी बस सहित छोटे वाहनों की बुकिंग के लिए ट्रांसपोर्टरों के यहां पैरवी हो रही है।

कोई विधायक से पैरवी करा रहा है तो मंत्री व जिला प्रशासन से लेकिन वाहन उपलब्ध नहीं हो रहा है। दुल्हे राजा के परिजन वाहन बुकिंग के लिए पूरे शहर की खाक छान रहे हैं। वे अपने सगे-संबंधियों का दरवाजा भी खटखटा रहे हैं। इस साल लगन का दिन कम होने के कारण वाहन मालिकों की परेशानी काफी बढ़ गई है।

वाहन एजेंट के यहां प्रतिदिन सैकड़ों वाहनों की बुकिंग हो रही है लेकिन उस अनुपात में वाहन नहीं मिल रहे हैं। 50 गाड़ी की बुकिंग होने पर सिर्फ 10-15 गाड़ी ही मिल रही है। डेढ़ गुना रेट देने के बावजूद वाहन नहीं मिल रहे हैं। कुछ एजेंटों ने निजी वाहनों को भी बुक करना शुरू कर दिया है। खासकर 18 एवं 25 अप्रैल को तो लगन और भी तेज है।

इसी दिन के लिए अभी से वाहनों की बुकिंग हो चुकी है। बताया जाता है कि 26 अप्रैल के बाद मई माह में लगन नहीं है। इस कारण वाहनों की परेशानी बढ़ गई है। इधर लंबी दूरी के लिए एसी बसों की भी जबरदस्त मांग हो रही है लेकिन जितनी मांग है उतनी एसी बसें नहीं मिल रही है।

बिहार राज्य ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह ने बताया कि पूरे बिहार में 20 हजार बसें हैं लेकिन जिस तरह अप्रैल माह में लगन की भरमार है कि बसें नहीं मिल रही हैं।

लगन में तेजी का कारण-:आचार्य राजनाथ झा के अनुसार इस साल लगन का दिन कम होने के कारण अप्रैल में शादियां ज्यादा हो रही हैं। खासकर 18 अप्रैल को उत्तर भाद्र पद नक्षत्र एवं 25 अप्रैल को मृगशिरा नक्षत्र पड़ने के कारण इस दिन शादियां ज्यादा हो रही हैं। लगन के लिए यह दोनों नक्षत्र काफी शुभ माने जाते हैं।

वाहनों का रेट-:वाहन रेट (प्रतिकिलो मीटर)टाटा सुमो 9-10 बोलेरो 9-10 स्कॉर्पियो 10-12 सफारी 10-12 इंडिगो 8-10 इंडिका 7-8‘ मई में लगन नहीं होने के कारण अप्रैल में ही अधिकतर शादियां हो रही हैं। इस कारण वाहनों की भारी कमी हो गई है। बाजार की स्थिति यह है कि अधिक कीमत देने के बाद भी 18 एवं 25 अप्रैल के लिए वाहन नहीं मिल रहे हैं। कुछ एजेंट तो बाहर से वाहन मंगवाने की बात सोच रहे हैं। ’प्रभात कुमार, प्रोपराइटर, कुमार ट्रेवल्स

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंड-बाजा बारात तैयार पर वाहन नदारद