DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटना के अशोक होटल पर दावा ठोकेगा बिहार

राजधानी स्थित अशोक होटल पर बिहार के पर्यटन विभाग का नहीं, बल्कि पर्यटन मंत्रालय की ‘हुकूमत’ चलती है। वहीं, रांची स्थित अशोक होटल में बिहार के पर्यटन विभाग की हिस्सेदारी है। इस अजीबोगरीब स्थिति को बिहार पर्यटन विभाग बंटवारे के बाद से झेल रहा है।

बिहार और झारखंड के बंटवारे के बाद रांची स्थित अशोक होटल की देखभाल, हिसाब-किताब समेत अन्य तमाम बातों की जिम्मेदारी बिहार के पर्यटन विभाग को दे दी गई। जबकि, पटना के अशोक होटल पर मालिकाना हक केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय ने जमाए रखा।

इससे निजात पाने के लिए बिहार के पर्यटन विभाग ने पर्यटन मंत्रालय से शिकायत की है। विभागीय मंत्री सुनील कुमार पिंटू का कहना है कि वह केन्द्रीय पर्यटन मंत्री से इस मामले में बात करेंगे। जल्द ही विभाग के अधिकारी को दिल्ली भेजकर इस इस समस्या के समाधान का प्रयास कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय पटना की बजाय रांची के अशोक होटल में अपनी हिस्सेदारी सुनिश्चित करे। होटल अशोक में हिस्सेदारी की इस गड़बड़ी से इनके रखरखाव करने और सुविधाएं मुहैया कराने में परेशानी होती है।

रांची का अशोक होटल साल में एक बार हिसाब देता है। पटना स्थित अशोक होटल को लेकर राज्य सरकार कोई पैकेज भी तैयार नहीं कर पाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पटना के अशोक होटल पर दावा ठोकेगा बिहार