DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बर्तन व्यापारी से दिन दहाड़े 2.10 लाख रुपये लूट

मथुरा मार्ग पर दिन दहाड़े हाथरस के बर्तन व्यापारी से नकाबपोश असलाहधारी बदमाशों ने दो लाख दस हजार रुपये लूट कर ले गए। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश तंमचा लहलहाते हुए पल्सर बाइक पर भाग निकले। पुलिस ने बदमाशों की तलाश में चेकिंग अभियान चलाया। देर सांय तक कोई सफलता नहीं मिल सकी। घटना को लेकर व्यापारी वर्ग में खासा आक्रोश है।

 पड़ोसी जनपद हाथरस के गुड़हाई बाजार निवासी श्रीकृष्ण अग्रवाल उर्फ बंटी पुत्र लालता प्रसाद हाथरस में एलपी इंटरप्राईजेज के नाम से बर्तन का कारोबार करते हैं। इनके बर्तन मथुरा जनपद में भी फुटकर दुकानों पर भी सप्लाई होते हैं। व्यवसायी उधारी वसूल करने स्वयं निकलते थे। बताया गया कि रविवार के दिन व्यवसायी राया और मथुरा में तकादा करने के लिए निकले थे। राया में पैसे लेने के बाद अपने रिश्तेदार हरीबाबू अग्रवाल के यहां रुक गए। वहां से मथुरा जाने के लिए उन्होंने अपरान्ह हाथरस डिपो की रोडवेज बस यूपी 81एन-9235 राया से पकड़ी। व्यवसायी श्रीकृष्ण अग्रवाल चालक के पीछे वाली सीट पर बैठ गए। उसने साथ ही राया से कुछ लोग भी चढ़ गए थे। इनकी उम्र करीब 25 से 30 वर्ष के बीच थी। युवकों के मुहं अगोछा से ढके हुए थे।

मांट ब्रांच गंग नहर के निकलने के बाद जैसे ही पानीगांव वाला फाटक आया बस में सवार बदमाश अपने असली रुप में आ गए। एक बदमाश ने रोडवेज बस के चालक राजेश राना की कनपटी पर तंमचा लगा कर बस को यहीं पर रोकने को कहा। चालक ने बदमाश की बात पर ध्यान नहीं दिया। जब उसने शीशा में बस रुकवाने वाले युवक के हाथ में तमंचा देखा तो वह घबरा गया। उसने तत्काल बस को नवीन मंडी स्थल पर रोक दिया। इसके बाद साथी बदमाश ने अन्य सवारियों की तरफ तंमचा तानते हुए श्रीकृष्ण अग्रवाल से बैग छीन लिया। बैग में दो लाख दस हजार रुपये रखे हुए थे। बदमाशों पर तंमचा को देख कोई भी सवारी विरोध करने का साहस नहीं जुटा सकी। बदमाश बस के पीछे आ रही दो पल्सर मोटर साइकिलों पर बैठकर हवा में तमंचा लहलहाते हुए भाग निकले।
घटना की सूचना मिलते ही थाना राया प्रभारी सलीम खॉन मौके पर पहुंच गए। उन्होंने बदमाशों की तलाश को अन्य थानों की पुलिस को वायरलैस के माध्यम से सूचना दी। वाहन चेकिंग कराने को कहा। सभी थानों की पुलिस ने अपने-अपने क्षेत्र में वाहन चेकिंग कराई। देर सांय तक बदमाशों का कोई सुराग नहीं लग सका। राया के तमाम व्यापारी घटनास्थल पर पहुंच गए। बस के परिचालक उमेश रावत ने बताया कि बदमाशों के मुंह कपड़े से बंधे हुए थे। इससे साफ होता है कि बदमाश शातिर किस्म के थे। घटनास्थल पर पुलिस के आला अधिकारी भी पहुंच गए।

हाथरस से पीछे लगे थे बदमाश
मथुरा। निज संवाददाता
राया रोड पर लुटे बर्तन व्यवसायी श्रीकृष्ण अग्रवाल की सुरागरसी करने वाले बदमाश कहीं हाथरस से तो उनके पीछे नहीं लगे थे। बदमाश व्यवसायी को सुबह से ही बांच कर रहे थे। व्यवसायी ने बर्तन दुकानदारों से पैसे उठाए उनकी जानकार बदमाशों को भी थी। व्यवसायी अपने रिश्तेदार के घर कुछ देर आराम करने चले गए। बदमाश उनके आने का इंतजार करते रहे। तीन बजे जैसे ही बर्तन व्यवसायी हाथरस डिपो की बस में सवार हुए दो बदमाश भी उनके साथ ही बस में बैठ गए। इसके बाद बदमाशों ने पानीगांव फाटक नवीन मंडी स्थल के समीप घटना को अंजाम दे दिया। दिन दहाड़े हुयी लूट की घटना से सनसनी फैल गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बर्तन व्यापारी से दिन दहाड़े 2.10 लाख रुपये लूट