DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

820 गांवों को दी जाएगी बिजली: पांडेय

बिहार राज्य जलविद्युत निगम के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक एके पांडेय ने शनिवार को कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत गोपालगंज, सहरसा, सुपौल और कैमूर जिले के बिजली से महएम 820 सुदूरवर्ती गांवों को बिजली दी जाएगी।

बाढ़ प्रभावित और सुदूरवर्ती गांवों में बिजली सुविधा देने के लिए राजीव गांधी ग्राम विद्युतीकरण योजना के लिए बिहार राज्य जल विद्युत निगम को नोडल एजेंसी बनाया गया है। यह एजेंसी के रूप में सुदूरवर्ती गांवों में विद्युतीकरण करेगी।

पांडेय ने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत बायो मास और सौर उर्जा के माध्यम से गोपालगंज में बैकुंठपुर और अन्य प्रखंड के 40 गांवों का चयन विद्युतीकरण के लिए किया गया है।

उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों में 100 सुदूरवर्ती गांवों के विस्तृत योजना रिपोर्ट बनाकर भेजा गया है। इस संबंध में 18 अप्रैल को एक उच्चस्तरीय बैठक होगी जिसमें डीपीआर की समीक्षा की जाएगी।

पांडेय ने बताया कि गैर परंपरागत स्रोतों के माध्यम से सहरसा जिले के बाढ़ प्रभावित 40 गांवों में भी बिजली पहुंचायी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:820 गांवों को दी जाएगी बिजली: पांडेय