DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुली एवं निर्माण मजदूरों का होगा मुफ्त इलाज

कुली, बीड़ी एवं कामगार मजदूरों को भी अब राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ मिलेगा। इस योजना की मुख्य विशेषता यह है कि इसके लिए बीमित व्यक्ति को किसी प्रकार का कोई प्रीमियम शुल्क नहीं लगेगा और बदले में सरकार की ओर से बीमित व्यक्ति एवं उनके परिवार के सदस्यों (अधिकतम 5 सदस्य ) को 30 हजार रुपये तक की मुफ्त चिकित्सा सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा अन्य कई सुविधाएं भी दी जाएंगी।

श्रम संसाधन विभाग ने इस बारे में कार्रवाई शुरू कर दी है। इस बारे में बीड़ी मजदूरों का आंकड़ा श्रम विभाग प्राप्त कर चुका है। उम्मीद की जा रही है कि अगले एक-दो महीने में सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कुली एवं निर्माण मजदूरों को इस योजना का लाभ मिलने में कुछ महीने और लग सकते हैं।

अब तक इस योजना का लाभ केवल गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को ही मिलता है। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि यह योजना केन्द्र एवं राज्य सरकार के सहयोग से लोगों को दिया जाता है। बीपीएल सूची वाले लोगों के लिए इस योजना को 20 अगस्त 2008 को भागलपुर से शुरू किया गया था। इसके तहत अब तक बिहार के लगभग 3.5 लाख लोगों को इस योजना में शामिल किया जा चुका है। इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं उनके परिवारों को समूचित चिकित्सा एवं इलाज के लिए सूबे में लगभग 900 अस्पतालों की सूची जारी कर दी है।

योजना की मुख्य बातें:-
यह योजना बीपीएल सूची के अन्तर्गत आने वाले परिवार (एक परिवार से अधिकतम पांच सदस्य) के लिए है।
कुल बीमित राशि 30,000 रुपए प्रति परिवार प्रति वर्ष होगी।
लाभार्थियों को नहीं देना है प्रीमियम
प्रीमियम का 75 प्रतिशत केन्द्र सरकार एवं 25 प्रतिशत बिहार सरकार देगी
स्मार्ट कार्ड के लिए 30 रुपए बीमित परिवार को देना होगा
घर से अस्पताल तक जाने-जाने के लिए 100 रुपए परिवहन व्यय

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुली एवं निर्माण मजदूरों का होगा मुफ्त इलाज