DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षा सेवा के अधिकारियों में रोष

शिक्षा विभाग के फैसले से शिक्षा सेवा के अधिकारियों में रोष है। पहले से ही विभाग में दो शीर्ष पदों पर भारतीय वन सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के पदाधिकारी काम कर रहे थे। अब माध्यमिक शिक्षा निदेशक के पद पर भी भारतीय प्रशासनिक सेवा से सेवानिवृत्त के के सिन्हा की संविदा पर एक साल के लिए नियुक्ति ने शिक्षा सेवा के पदाधिकारियों की बेचैनी और बढ़ा दी है।

इस संवर्ग के एक अधिकारी ने कहा कि शिक्षा विभाग में यह नई परंपरा की शुरुआत है। नियत वेतन पर नियोजन वाले शिक्षक काम कर ही रहे हैं और निदेशक के पद पर संविदा के आधार पर बहाली हुई है जबकि अब तक इस पद पर किसी कार्यरत आईएएस की नियुक्ति की ही परंपरा रही है। हालांकि इस नई परंपरा से विभाग की मंशा है कि कामकाज सुचारू रूप से होता रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिक्षा सेवा के अधिकारियों में रोष