DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रूपम पाठक के समर्थन में महिला कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

भाजपा विधायक राजकिशोर केसरी हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा पाई रूपम पाठक को न्याय दिलाने की मांग को लेकर अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (एपवा) ने शनिवार को राजधानी सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन कर सड़क जाम किया।

एपवा की महासचिव मीना तिवारी ने कहा कि सीबीआई की विशेष अदालत से आजीवन कारावास की सजा प्राप्त रूपम पाठक के साथ न्याय नहीं हुआ है। रूपम पाठक के यौन उत्पीड़न मामले की जांच नहीं हुई है। इसलिए हत्याकांड के मामले की फिर से जांच होनी चाहिए और न्याय मिलना चाहिए।

महिला संगठन के कार्यकर्ताओं ने पटना में रेडियो स्टेशन रोड के पास, पालीगंज और मसौढ़ी में प्रदर्शन किया और सड़क जाम किया। दरभंगा, सीतामढ़ी और नवादा में महिला कार्यकर्ताओं ने रूपम पाठक के समर्थन में लाल रंग के पोस्टर और तख्तियां लेकर नारेबाजी की।

पश्चिम चंपारण के मुख्यालय शहर बेतिया में महिलाओं ने प्रदर्शन किया, गोपालगंज में राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहन परिचालन बाधित किया। वहीं भोजपुर के आरा, गढहनी में एपवा के सदस्यों का जोरदार प्रदर्शन रहा। कैमूर में कार्यकर्ताओं ने कुछ देर के लिए गिरफ्तारियां दी।

वहीं गया में समाहरणालय के पास प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने गिरफ्तारी दी। रोहतास, अररिया और पूर्णियां जिले में भी महिलाओं ने जुलूस निकाला और प्रदर्शन किया। बिहार के पूर्णिया जिले में खजांची हाट थाना अंतर्गत विधायक के निवास पर 4 जनवरी 2011 को भाजपा विधायक राजकिशोर केसरी की हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में बीते 10 अप्रैल को सीबीआई की विशेष अदालत ने एपम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

एक स्कूल की शिक्षिका रूपम को सजा सुनाये जाने का महिला संगठनों ने विरोध किया। संगठनों का आरोप है कि केसरी हत्याकांड मामले में सीबीआई ने यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच नहीं की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रूपम पाठक के समर्थन में महिला कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन