DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खींचतान में बीआईसी सीएमडी ने इस्तीफा दिया

कपड़ा मंत्रालय और बीआईसी सीएमडी के बीच चल रही तनातनी का मामला गरमा गया है। सीएमडी हीरक उपाध्याय ने खींचतान के चलते पद से इस्तीफा दे दिया है और अपना इस्तीफा मंत्रलय के आला अधिकारियों को भेज दिया है। मंत्रलय ने साफ कर दिया है कि इस्तीफा मंजूर किया जाएगा।

हाल में मंत्रालय ने सीएमडी के अधिकार छीनकर निदेशक डॉ.दिलीप कुमार को दे दिए हैं। उधर, असम कैडर के आईपीएस ने केन्द्रीय प्रशासनिक प्राधिकरण (कैट) में सीएमडी की नियुक्ति को चुनौती दी, लेकिन यह दावा कि या कि वे अभी भी बीआईसी में सीबीओ पद पर हैं। इस दावे को मंत्रलय ने खारिज कर प्रतिदावे में साफ कर दिया कि आईपीएस की प्रतिनियुक्ति डेढ़ साल पहले खत्म हो चुकी है।

काफी पहले से माना जा रहा था कि सीएमडी देर सबेर इस्तीफा देंगे। मंत्रलय और सीएमडी में तनातनी नवम्बर में बीआईसी जमीनों के फ्री होल्ड का पूरा पैसा मांगने के बाद से शुरू हो गई थी। मंत्रलय चाहता था कि सीएमडी बीआईसी की पुनरुद्धार योजना पर काम शुरू करा दें और फ्री होल्ड के धन को बाद में देख लिया जाएगा लेकिन बात नहीं बनी और मामला गरमाता चला गया। लेकिन सीएमडी सबकुछ अभी देने की दलील दे रहे थे।

यही बात मंत्रालय को नागवर लगी और उसने सबसे पहले सीएमडी के अधिकारों को कम करते हुए उनके ऊपर निदेशक डॉ.कुमार को बैठा दिया और निर्देश दिए कि हफ्ते में दो दिन कानपुर में बैठें। बीते हफ्ते निदेशक ने पूरे अधिकारों के साथ काम देखा और दिशा निर्देश दिए।

सीएमडी कुछ नहीं कर सके। मंत्रलय के अधिकारी भी  सीएमडी के कार्यशैली से असंतुष्ट रहे। रिजल्ट देने का लगातार दबाव भी सीएमडी के ऊपर रहा। इसी के चलते सीएमडी ने इस्तीफा दिया है। मंत्रलय के एक आला अधिकारी ने बताया कि सीएमडी का इस्तीफा सचिव और संयुक्त सचिव को मिलने की पुष्टि की।

खुद सीएमडी उपाध्याय ने भी इस पर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। सीएमडी हीरक उपाध्याय ने 14 जून 2011 को सीएमडी /चेयरमैन पद का कार्यभार ग्रहण किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खींचतान में बीआईसी सीएमडी ने इस्तीफा दिया